DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गाजियाबाद : भैयादूज पर बहन को लूट से बचाने में भाई की गई जान

गाजियाबाद में डायमंड फ्लाईओवर के पास लूट के इरादे से फायरिंग में भाई की मौत के बाद गमगीन बहन सविता।

बेखौफ बदमाशों में कविनगर थाना क्षेत्र में दो अलग-अलग जगहों पर लूट की घटनाओं को अंजाम देने की कोशिश की। बहन के साथ लूट का विरोध करने पर बदमाशों ने भाई की गोली मारकर हत्या कर दी, दूसरे मामले में भाई के घर भाईदूज मनाने जा रही विवाहिता की गाड़ी पर बदमाशों ने फायरिंग की। पुलिस का कहना है कि इन बदमाशों ने गाजियाबाद में दो घटना की है। 

ताऊ के बेटे के घर से भाईदूज मनाकर लौट रही बहन के साथ बदमाशों ने लूट का प्रयास किया। उसके भाई ने जब इसका विरोध किया तो बदमाशों ने उसके गले से सटाकर गोली मार दी। घायल युवक को राहगीर ऑटो में लेकर सर्वोदय अस्पताल में पहुंचे, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। घटना के बाद बदमाश एनएच-91 की ओर यूटर्न लेकर फरार हो गए। युवक को गोली मारने की सूचना पर एसएसपी, एसपी सिटी, समेत अन्य पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे।

घूकना में रहने वाले शीशपाल चाय की दुकान चलाते हैं। उसका बेटा मनोज कुमार चौधरी मोड़ पर स्थित एक कंपनी के आउटलेट पर काम करता था। मनोज के जीजा पवन ने बताया कि मनोज शुक्रवार दोपहर को बड़ी बहन सविता के साथ ग्रेटर नोएडा स्थित दुरैई गांव में रहने वाले ताऊ के यहां भाईदूज का त्योहार मनाने के लिए गए थे। त्योहार मनाकर भाई-बहन लौट रहे थे। चार बजे के करीब मनोज और सविता औद्योगिक क्षेत्र में पहुंचे तो पीछे से आए बाइक सवार दो बदमाशों ने उनकी बाइक को ओवरटेक कर रोक लिया। बदमाशों ने पहले दोनों से रास्ता पूछा और बाद में पिस्टल तानकर सविता से सारी ज्वलेरी उतारने को कहा। सविता ने विरोध किया तो बदमाशों ने उससे ज्वेलरी छीनने की कोशिश की। बहन के साथ लूटपाट का मनोज ने विरोध किया तो बदमाशों ने पिस्टल से उसके गले से सटाकर गोली मार दी। गोली की आवाज सुनकर भीड़ इकट्ठी हो गई। 

महिला की कार पर फायरिंग कर लूट का प्रयास किया

गाजियाबाद। भाई के घर भाईदूज मनाने जा रही महिला की कार पर बदमाशों ने फायरिंग करते हुए लूट का प्रयास *किया। महिला के पति ने कार को पेट्रोल पंप पर ले जाकर पत्नी और बच्चों की जान बचाई। 

नेहरूनगर एच तृतीय ब्लॉक में रहने वाले सौरभ कंसल का घंटाघर पर हार्डवेयर का कारोबार है। सौरभ शुक्रवार शाम को अपनी कार में पत्नी प्राची और दो बच्चों के साथ अपनी ससुराल पिलुखवा जा रहे थे। कार खुद सौरभ चला रहे थे। सौरभ का कहना है कि डायमंड फ्लाईओवर के पास से ही दो बदमाशों ने बाइक से उनका पीछा करना शुरू कर दिया था। बाइक सवार दोनों युवकों ने पहले तो बायीं तरफ देखा। इसके बाद उन्होंने चालक की साइड में आकर देखा। काफी देर तक पीछा करने के बाद बाइक सवार बदमाशों ने अचानक से बायीं तरफ से आकर कार के शीशे पर फायरिंग की। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Brother killed in ghaziabad during robbery with sister on bhai dooj