DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

साजिश : आधार कार्ड में हेराफेरी कर कोमल बन गई कामाक्षी, ये था प्लान

दिल्ली से लापता बीमा मैनेजर कोमल को गाजियाबाद पुलिस ने सोमवार रात बेंगलुरु से बरामद कर लिया। इस दौरान कोमल के पास से पुलिस को एक आधार कार्ड मिला है। इस आधार कार्ड में कोमल की ही तस्वीर लगी है, लेकिन नाम कामाक्षी है। पुलिस को आशंका है कि कोमल ने यात्रा के दौरान अपनी पहचान छिपाने के लिए आधार कार्ड में अपना नाम बदलवा दिया था। हालांकि यह बात सामने नहीं आ पाई की आधार कार्ड फर्जी है या ऑनलाइन उसमें नाम परिवर्तित कराया गया है।

खुलासा : पूरे परिवार की हत्या के पीछे पति-पत्नी और वो की कहानी

कोमल के पारिवारिक सूत्रों का कहना है कि पति के काम न करने से परेशान कोमल ने कई बार अपने परिजनों को भी अपनी परेशानी बताई थी, लेकिन परिजनों ने उसे ही समझाकर शांत कर दिया। इससे उसे लगा कि न ससुराल और न मायके में उसकी कोई सुनवाई हो रही है। इसके बाद उसने ब्रह्मकुमारी आश्रम जाकर जीवन व्यतीत करने की योजना बनाई थी। मंगलवार को गाजियाबाद पुलिस ने कोमल को परिजनों के सुपुर्द कर दिया। मंगलवार रात परिजनों के साथ घर जा रही कोमल ने बताया कि उसके ससुराल वाले लगातार उसे प्रताड़ित कर रहे थे, जिसके चलते उसने यह कदम उठाया है। उसने सारे खर्चे अपने वेतन से ही किए हैं। 

दिल्ली से लापता नेता पुत्री का गाजियाबाद में कार से मिला सुसाइड नोट, बेंगलुरु में जिंदा मिली

शुक्रवार को संदिग्ध परिस्थिति में लापता हुई थी कोमल : दिल्ली के पांडव नगर में रहने वाले अभिषेक सिंह की पत्नी कोमल तालान (29) बाराखंभा रोड स्थित एक निजी इंश्योरेंस कंपनी में ट्रेनिंग मैनेजर के पद पर कार्यरत हैं। शुक्रवार को कोमल अपने कार्यालय नहीं पहुंची तो परिजनों ने बाराखंभा रोड थाने में गुमशुदगी दर्ज करा दी। शनिवार सुबह 11 बजे कोमल की कार लावारिस हालत में हिंडन बैराज के पास सड़क पर खड़ी मिली थी। सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने परिजनों को भी सूचित कर दिया। कार में महिला का बैग और एक सुसाइड नोट मिला था, जिसमें महिला ने ससुराल में परेशान किए जाने का जिक्र किया था।

परिजनों ने पति पर मढ़े आरोप

कोमल के पिता अनिल का आरोप है कि अभिषेक का आचरण ठीक नहीं था, वह नौकरी भी नहीं करता था। कोमल के वेतन से ही अपना खर्च चलाता था। पिता अनिल ने बताया कि जब टी उनसे उत्पीड़न की शिकायत करती तो वे समझाते थे, जिससे उनका घर बसा रहे। अब वे बेटी को उस घर में कभी नहीं भेजेंगे। 

''कोमल मुंबई से ट्रेन के जरिए कोएंबटूर जा रही थी। उसे बेंगलुरु में बरामद कर लिया गया। लड़की को परिजनों को सौंप दिया गया है। अब मजिस्ट्रेट के सामने लड़की के बयान दर्ज कराए जाएंगे।'' -सुधीर सिंह, एसएसपी

दिल्ली से लापता विवाहिता हिंडन बैराज में डूबी, कार से मिला सुसाइड नोट

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:BKU leader s daughter komal talan become kamakshi by change her name in Aadhaar card