ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRभीषण गर्मी में भी करते रहे चुनाव प्रचार, अब अचानक नई बीमारी; केजरीवाल की याचिका पर BJP

भीषण गर्मी में भी करते रहे चुनाव प्रचार, अब अचानक नई बीमारी; केजरीवाल की याचिका पर BJP

बीजेपी ने कहा, चुनाव प्रचार के दौरन वह बिल्कुल ठीक थे। भीषण गर्मी में भी उन्होंने चुनाव प्रचार किया लेकिन अब नई-नई बीमारियां बताई जा रही हैं। 

भीषण गर्मी में भी करते रहे चुनाव प्रचार, अब अचानक नई बीमारी; केजरीवाल की याचिका पर BJP
Aditi Sharmaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीMon, 27 May 2024 01:02 PM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शराब घोटाले से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में उनकी अंतरिम जमानत की अवधि को स्वास्थ्य आधार पर सात दिन और बढ़ाए जाने का सुप्रीम कोर्ट से अनुरोध किया है। उनकी इस अपील पर बीजेपी का रिएक्शन सामने आया है। दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा ने इसे नौटंकी बताया है। उन्होंने कहा, चुनाव प्रचार के दौरन वह बिल्कुल ठीक थे। भीषण गर्मी में भी उन्होंने चुनाव प्रचार किया लेकिन अब नई-नई बीमारियां बताई जा रही हैं। 

उन्होंने कहा, अभी वह पंजाब में चुनाव प्रचार कर रहे हैं।  वह अंतरिम जमानत की अवधि बढ़ाने के लिए नई बीमारियां बता रहे हैं। बता दें, सुप्रीम कोर्ट ने 10 मई को केजरीवाल को लोकसभा चुनाव के मद्देनजर प्रचार करने के लिए 21 दिन की अंतरिम जमानत दी थी। उसने साथ ही कहा था कि केजरीवाल इस दौरान अपने कार्यालय या दिल्ली सचिवालय नहीं जा सकते और ना ही किसी भी सरकारी फाइल पर तब तक हस्ताक्षर कर सकते हैं, जब तक उपराज्यपाल की मंजूरी प्राप्त करने के लिए ऐसा करना आवश्यक न हो।

याचिका में क्या कहा?

मुख्यमंत्री ने अपनी ताजा याचिका में उनकी अंतरिम जमानत याचिका की अवधि स्वास्थ्य आधार पर सात और दिन बढ़ाए जाने का अनुरोध किया है। याचिका में उनका वजन सात किलोग्राम कम होने का भी जिक्र किया गया है। याचिका में कहा गया है कि मुख्यमंत्री को कुछ चिकित्सकीय जांच कराने की जरूरत है और इसके लिए एक जून को समाप्त हो रही अंतरिम जमानत की अवधि को बढ़ाया जाए।

बेबी केयर अस्पताल हादसा हत्या है- बीजेपी

वीरेंद्र सचदेना ने बेबी केयर अस्पताल में हुए अग्निकांड को लेकर भी केजरीवाल और प्रशासन पर निशाना साधा। उन्होंने कहा, यह हादसा नहीं बल्कि साजिश है।  इसके लिए अरविंद केजरीवाल, दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सौरभ भारद्वाज और उनका भ्रष्ट प्रशासन जिम्मेदार है। मार्च 2021 में , इस अस्पताल को अनुमति नहीं मिल रही थी, लेकिन बाद में अनुमति दे दी गई।  इसका एकमात्र कारण भ्रष्टाचार है। यह उन बच्चों की हत्या है, और वे इसके लिए जिम्मेदार हैं।''