ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRएक अपराधी कैसे कर सकता है भगत सिंह से खुद की तुलना, केजरीवाल पर भाजपा का तंज

एक अपराधी कैसे कर सकता है भगत सिंह से खुद की तुलना, केजरीवाल पर भाजपा का तंज

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा खुद को भगत सिंह का चेला बताने पर भाजपा ने तंज कसा है। कहा है कि एक अपराधी खुद की तुलना भगत सिंह से कैसे कर सकता है। यह देश के लिए दुर्भाग्य है।

एक अपराधी कैसे कर सकता है भगत सिंह से खुद की तुलना, केजरीवाल पर भाजपा का तंज
virendra sachdeva-arvind kejriwal
Subodh Mishraएएनआई,नई दिल्लीSun, 02 Jun 2024 10:53 PM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने जेल जाने से पहले कहा था कि वह भगत सिंह के चेले हैं, देश को बचाने के लिए कई बार जेल जा सकते हैं। उनके इस बयान पर भाजपा ने तंज कसा है। दिल्ली प्रदेश भाजपा अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा ने कहा है कि एक अपराधी खुद की तुलना भगत सिंह से कैसे कर सकता है।
 
समाचार एजेंसी एएनआई से बातचीत में सचदेवा ने कहा कि अगर अरविंद केजरीवाल अपनी तुलना शहीद भगत सिंह या चंद्रशेखर आजाद से करना चाहते हैं तो यह देश के लिए दुर्भाग्यपूर्ण है। सचदेवा ने कहा कि एक अपराधी जो शराब के व्यापारियों के साथ सांठगांठ करके दलाली खाता है, कमीशन खाता है और माननीय न्यायालय ने उसे जेल भेजा। माननीय न्यायालय के कहने पर वह सरेंडर कर रहा है तो कहां से वह अपनी तुलना  भगत सिंह और चंद्रशेखर आजाद से कर सकता है। अगर एक चोर या अपराधी इस तरह से अपनी तुलना करेगा तो समझ लीजिए कि देश के लिए इससे बड़ा दुर्भाग्य और क्या होगा।

वहीं, अरविंद केजरीवाल द्वारा एग्जिट पोल को लेकर उठाए गए सवालों पर सचदेवा ने कहा कि जिस एग्जिट पोल को वह झूठा बता रहे हैं, उसी एग्जिट पोल को लेकर कई बार अपनी वाहवाही बटोरते रहे हैं। अगर आप एग्जिट पोल पर अंगुली उठा रहे हैं तो जितने मीडिया चैनल्स हैं, आप उनकी निष्पक्षता और ईमानदारी पर सवाल उठा रहे हैं। आप उनके काम पर सवाल उठा रहे हैं। सचदेवा ने कहा कि अरविंद केजरीवाल का चरित्र रहा है कि जो उन्हें सूटेबल लगती है वे उसके पक्ष में बोलते हैं अन्यथा विरोध करते हैं। 

सचदेवा ने कहा कि दिल्ली के लोगों ने आप-कांग्रेस के गठबंधन को नकार दिया है। भाजपा दिल्ली की सभी सात सीटों पर क्लीन स्वीप कर रही है। दिल्ली वालों ने अरविंद केजरीवाल के भ्रष्टाचार के खिलाफ अपना फैसला दिया है। सचदेवा ने कहा कि पंजाब में आप और कांग्रेस एक-दूसरे के खिलाफ चुनाव लड़ रही थी और दिल्ली में इन दोनों ने दोस्ती कर ली थी। दिल्ली की जनता इसे भलीभांति जानती थी। यही कारण है कि दिल्ली की जनता ने उन्हें पूरी तरह नकार दिया है। सचदेवा ने तो यहां तक दावा कर दिया कि आगामी विधानसभा चुनाव में भी आप का सूपड़ा साफ हो जाएगा।