ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRमहेश शर्मा ने हैट्रिक लगाकर तोड़ डाला अपना ही रिकॉर्ड, NCR में दिलाई सबसे बड़ी जीत

महेश शर्मा ने हैट्रिक लगाकर तोड़ डाला अपना ही रिकॉर्ड, NCR में दिलाई सबसे बड़ी जीत

गौतमबुद्ध नगर सीट से भाजप प्रत्याशी डॉ. महेश शर्मा ने 5,59,472 वोटों के बड़े अंतर से जीतकर अपना ही पिछले चुनाव का रिकॉर्ड तोड़कर तीसरी बार जीत दर्ज की है। उन्हें इस चुनाव में 8,57,829 वोट मिले।

महेश शर्मा ने हैट्रिक लगाकर तोड़ डाला अपना ही रिकॉर्ड, NCR में दिलाई सबसे बड़ी जीत
mahesh sharma
Praveen Sharmaनोएडा। निशांत कौशिकWed, 05 Jun 2024 06:55 AM
ऐप पर पढ़ें

गौतमबुद्ध नगर लोकसभा सीट से भाजप प्रत्याशी डॉ. महेश शर्मा ने 5,59,472 वोटों के बड़े अंतर से जीतकर अपना ही पिछले चुनाव का रिकॉर्ड तोड़कर तीसरी बार जीत दर्ज की है। उन्हें इस चुनाव में 8,57,829 वोट मिले। वर्ष 2019 के चुनाव में वह 3,36,000 वोट से जीते थे। उन्होंने इस बार अपना ही पुराना रिकॉर्ड तोड़ दिया।

पिछले लोकसभा चुनाव में भाजपा प्रत्याशी ने 59.64 प्रतिशत वोट हासिल किए थे, जबकि इस बार उन्हें 59.69 प्रतिशत वोट मिले। उनके वोट प्रतिशत में 0.5 फीसदी की वृद्धि हुई। गौतमबुद्ध नगर लोकसभा सीट पर भाजपा ने जीत की हैट्रिक दूसरी बार लगाई है। वर्ष 1996 से 2024 तक हुए आठ लोकसभा चुनाव में से सिर्फ एक बार ही भाजपा इस सीट पर चुनाव हारी है। 1996, 1998, 1999 और 2004 में अशोक प्रधान ने यहां से लगातार जीत हासिल की थी। उस समय इस सीट को खुर्जा लोकसभा के नाम से जाना जाता था।

वर्ष 2008 में नए परिसीमन के बाद बनी गौतमबुद्ध नगर लोकसभा सीट पर पहला लोकसभा चुनाव 2009 में हुआ था। इस चुनाव में बसपा ने जीत हासिल कर भाजपा के विजय रथ को रोका था। बसपा प्रत्याशी के रूप में सुरेंद्र नागर ने जीत दर्ज की थी। हालांकि, अब सुरेंद्र नागरभी भाजपा नेता हैं और वह पार्टी के राज्यसभा सांसद होने के साथ ही संगठन में राष्ट्रीय सचिव हैं। इसके बाद से वर्ष 2014, 2019 और 2024 में डॉ. महेश शर्मा ने भाजपा के सिंबल पर लगातार तीसरी जीत दर्ज की है।

इस सीट पर वर्ष 1998 में भी हुई थी प्रदेश की सबसे बड़ी जीत : इससे पहले वर्ष 1998 में भी भाजपा ने गौतमबुद्ध नगर लोकसभा सीट पर प्रदेश में सबसे बड़ी जीत हासिल की थी। हालांकि, उस दौरान इस लोकसभा सीट का नाम खुर्जा था। तब भाजपा के प्रत्याशी अशोक प्रधान ने दो लाख 29 हजार से अधिक वोट के अंतर से यहां से जीत दर्ज की थी। यह जीत प्रदेश की सबसे बड़ी जीत थी। 

परिणाम स्वीकार, संघर्ष जारी रहेगा महेंद्र नागर

गौतमबुद्ध नगर लोकसभा सीट पर दूसरे नंबर पर रहे सपा प्रत्याशी डॉ महेंद्र नागर ने कहा कि वह इस जनादेश को स्वीकार कर उन्हें वोट करने वाले सभी मतदाताओं का आभार व्यक्त करते हैं। चुनाव परिणाम आने के बाद भी वह मैदान में रहेंगे और उनका यह संघर्ष जारी रहेगा। परिणाम को लेकर बूथवार विस्तृत समीक्षा की जाएगी। इस चुनाव में बसपा प्रत्याशी राजपूत समाज में गहरी पैठ नहीं बना सके और यह वोट भाजपा की ओर ही चला गया। इसके अलावा उन्हें चुनाव प्रचार में समय भी कम मिला था।

हार के कारणों की समीक्षा करूंगा : राजेंद्र सोलंकी

लोकसभा चुनाव का परिणाम आने के बाद बसपा प्रत्याशी राजेंद्र सोलंकी ने कहा कि यह धन की जीत है। चुनाव परिणाम को लेकर वह अपनी पार्टी नेताओं के साथ समीक्षा करेंगे। संगठन के पदाधिकारियों से भी पूरे चुनाव पर रिपोर्ट ली जाएगी। हार के कारणों पर विस्तृत रूप से मंथन करने के बाद आगे की रणनीति तय होगी। संसदीय क्षेत्र के लोगों के हित में काम जारी रहेगा।

इस चुनाव में बसपा का मत प्रतिशत घटा

तीन लोकसभा चुनावों के मुकाबले बसपा प्रत्याशी राजेंद्र सिंह सोलंकी को अकेले दम पर सबसे ज्यादा 251615 वोट मिले, लेकिन मत प्रतिशत में गिरावट आई। इस बार बसपा का मत प्रतिशत 17.51 रहा।  

10 हजार से अधिक ने नोटा का बटन दबाया

गौतमबुद्ध नगर सीट पर पिछले तीन चुनावों के मुकाबले इस बार नोटा का बटन दबाने वालों की संख्या बढ़ी है। इस बार दलों को नापसंद करने वालों की संख्या 10,324 रही।

सनातन धर्म मंदिर में मत्था टेका

सांसद डॉ. महेश शर्मा ने एतिहासिक जीत दर्ज करने के बाद नोएडा के सेक्टर-19 स्थित सनातन धर्म मंदिर पहुंचकर भगवान के समक्ष मत्था टेका। उन्होंने बेटे कार्तिक और अन्य कार्यकर्ताओं के साथ मंदिर में पूजा-अर्चना की। यहां मंदिर के बाहर खुशी से कार्यकर्ताओं ने उन पर फूल भी बरसाए। कार्यकर्ताओं ने उनको बधाई दी। बता दें कि डॉ. महेश शर्मा ने नामांकन करने से पहले भी मंदिर में पूजा अर्चना की थी। वह हर शुभ कार्य से पहले परिवार के लोगों के साथ मंदिर में पूजा करते हैं।