ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRकहीं आपने भी नोएडा के इन सेक्टर्स में तो नहीं खरीदी जमीन, भूमाफिया कर रहे खेल; अथॉरिटी की लोगों से अपील

कहीं आपने भी नोएडा के इन सेक्टर्स में तो नहीं खरीदी जमीन, भूमाफिया कर रहे खेल; अथॉरिटी की लोगों से अपील

नोएडा के 22 सेक्टर्स में भूमाफिया बड़े पैमाने पर अवैध कॉलोनी काट कर लोगों को ठगने का काम कर रहे हैं। प्राधिकरण ने बुधवार को इन सेक्टर और गांवों की सूची सार्वजनिक कर दी जिससे लोग बच सकें।

कहीं आपने भी नोएडा के इन सेक्टर्स में तो नहीं खरीदी जमीन, भूमाफिया कर रहे खेल; अथॉरिटी की लोगों से अपील
Sneha Baluniनिशांत कौशिक,नोएडाFri, 03 May 2024 08:13 AM
ऐप पर पढ़ें

नोएडा प्राधिकरण क्षेत्र में 22 सेक्टर और छह गांवों में बड़े पैमाने पर अवैध कॉलोनी काट कर लोगों को ठगा जा रहा है। प्राधिकरण ने बुधवार को इन सेक्टर और गांवों की सूची सार्वजनिक कर लोगों से वहां बिना जांच भूखंड न खरीदने की अपील की है। प्राधिकरण ने इन अवैध कॉलोनी काटने वालों को भूमाफिया बताया है। सीईओ द्वारा उनके खिलाफ कार्रवाई का दावा किया जा रहा है।

नोएडा प्राधिकरण की ओर से जारी की गई इस सूचना को प्राधिकरण के कार्यालय में चस्पा किए जाने के साथ ही अन्य सार्वजनिक स्थानों पर भी लगवाया गया है। इसको प्रसारित भी कराया जा रहा है। प्राधिकरण की ओर से जारी सूचना में कहा गया है कि नोएडा के सेक्टर-82, 91, 92, 93, 93ए, 93बी, 101, 102, 104, 105, 106, 107, 108. 110, 136, 137, 141, 142, 143, 143ए, 143बी, 144, गांव सलारपुर, हाजीपुर, गेझा तिलपताबाद, भंगेल बेगमपुर, गढ़ी और शहदरा में कुछ अज्ञात व्यक्तियों और भूमाफिया द्वारा नोएडा प्राधिकरण की अधिसूचित जमीन पर अवैध कॉलोनियां काटी जा रही हैं। 

इन कॉलोनी में अवैध रूप से प्लाटिंग कर उनको बेचा जा रहा है। इस जमीन पर की जाने वाली प्लाटिंग और उसकी खरीद-फरोख्त अवैध है। प्राधिकरण ने लोगों से अपील की कि वह इन अवैध कॉलोनियों में कोई भी भूखंड न खरीदें। इन अवैध कॉलोनियों को प्राधिकरण द्वारा ध्वस्त किया जाएगा। कॉलोनी काटने वालों के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी।

गांवों के खसरा नंबर जारी किए 

नोएडा प्राधिकरण की ओर से तीन गांवों के खसरा नंबर भी जारी किए गए हैं। जहां पर लोगों से जमीन न खरीदने की अपील की गई है। प्राधिकरण के अनुसार सलारपुर में खसरा संख्या 700 से 715, 727, 728, 779, 780, हाजरीपुर में खसरा संख्या 412 व 514 और गांव भंगेल के खसरा संख्या 217, 225, 226, 227 और 239 की सूची जारी कर यहां पर अवैध रूप से जमीनों की खरीद फरोख्त के आरोप लगाए गए हैं।

माफिया ने चेतावनी बोर्ड पर रंग पोता

प्राधिकरण की टीम ने तीन दिन पहले इन इलाकों में अवैध निर्माणों के खिलाफ ध्वस्तीकरण अभियान चलाकर नोटिस जारी किए थे। वहां बनी अवैध बिल्डिंगों पर लिखवाया था कि ये बिल्डिंग अवैध हैं। आरोप है कि प्राधिकरण की टीम के लौटते ही वहां पर दोगुनी तेजी से निर्माण कार्य शुरू हो चुका है। प्राधिकरण ने जहां पर लिखवाया था कि यह बिल्डिंग अवैध हैं, उन्हें भी पोत दिया गया है।

विभाग में रजिस्ट्री बंद कराएं

अधिवक्ता राम कुमार शर्मा का कहना है कि जहां पर अवैध रूप से बिल्डिंगों की खरीद फरोख्त हो रही है, ऐसी सभी जमीनों के खसरा नंबरों की सूची प्राधिकरण द्वारा रजिस्ट्री विभाग में देकर उनकी रजिस्ट्री बंद कराई जानी चाहिए। इससे वहां पर अवैध रूप से जमीनों के बैनामे नहीं हो सकेंगे। जिस तरह से प्राधिकरण ने डूब क्षेत्र के बैनामे रोक रखे हैं, उसी तरह से इन इलाकों के भी बैनामों पर रोक लगा दे। जो बिल्डिंगें अवैध हैं, उनकी सूची भी रजिस्ट्री विभाग को सौंप कर रजिस्ट्री पर रोक लगाई जानी चाहिए। भूमाफिया पर मुकदमा दर्ज कराए जाएं।

जमीन खरीदते समय ये सावधानी बरतें

1. जमीन के रिकॉर्ड की जांच संबंधित तहसील और प्राधिकरण कार्यालय से जरूर कर लें
2. डूब क्षेत्र में जमीन खरीदने से बचें, वहां पक्का निर्माण नहीं हो सकता
3. जिस जमीन का मुआवजा लिया जा चुका है, उसको न खरीदें
4. जमीन खरीदने से पहले जांच लें, उस पर कोई लोन तो नहीं है
5. जमीन को खरीदने से पहले उसके कागजों की जांच करा लें
6. जिस खसरा संख्या की जमीन का बैनामा हो रहा है, कब्जा भी उसी जगह दिया जा रहा है या नहीं
नोट: नोएडा प्राधिकरण ने लोगों को जमीन खरीदते समय ये सावधानी बरतने की सलाह दी है।

नोएडा प्राधिकरण के सीईओ लोकेश एम ने कहा, 'प्राधिकरण के क्षेत्र में जिन लोगों द्वारा अवैध कॉलोनियां काटी जा रही हैं, उन्हें चिह्नित कर माफिया के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया जाएगा। ये सभी अवैध कॉलोनियां ध्वस्त होंगी। लोग किसी भी भूखंड को खरीदने से पहले प्राधिकरण कार्यालय से उसके संबंध में जानकारी ले लें।'