ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRअनशन पर बैठीं आतिशी का BJP पर गंभीर आरोप, बोलीं- मैं डरने वाली नहीं

अनशन पर बैठीं आतिशी का BJP पर गंभीर आरोप, बोलीं- मैं डरने वाली नहीं

उन्होंने भोगल में अपने ‘जल सत्याग्रह’ स्थल से एक वीडियो संदेश जारी कर बीजेपी पर निशाना साधा और कहा कि इन पर हमला करने की कोशिश की गई है। 

अनशन पर बैठीं आतिशी का BJP पर गंभीर आरोप, बोलीं- मैं डरने वाली नहीं
atishi says i will sit on an indefinite fast to get the water from haryana
Aditi Sharmaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSat, 22 Jun 2024 04:54 PM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली में जल से हाहाकार मचा हुआ है। राजनीतिक पार्टियां एक दूसरे पर आरोप लगा रही है तो वहीं लोग सड़कों पर उतर आए हैं। लेकिन जल संकट खत्म होने का नाम नहीं ले रहा। इस बीच दिल्ली की जल मंत्री अनिश्चितकालीन अनशन पर बैठी हैं। उनका कहना है कि  जब तक हरियाणा दिल्ली वासियों के लिए और पानी नहीं छोड़ता, तब तक वह कुछ नहीं खाएंगी। आज उनके अनशन का दूसरा दिन है। इस दौरान उन्होंने भोगल में अपने ‘जल सत्याग्रह’ स्थल से एक वीडियो संदेश जारी कर बीजेपी पर निशाना साधा और कहा कि इन पर हमला करने की कोशिश की गई है। 

उन्होंने वीडियो संदेश में कहा,आज, कुछ लोग अराजकता पैदा करने, अशांति पैदा करने, मुझ पर हमला करने के लिए मेरे विरोध स्थल पर आए लेकिन मैं भाजपा को बताना चाहूंगी कि मैं गांधी जी द्वारा सिखाए गए सत्याग्रह के रास्ते पर चल रही हूं। मैं इस तरह की चीजों से डरने वाली नहीं हूं, जब तक कि दिल्ली के 28 लाख लोगों को उनका हक नहीं मिल जाता, ये सत्याग्रह जारी रहेगा। 

दक्षिणी दिल्ली के भोगल में अपने ‘जल सत्याग्रह’ स्थल से उन्होंने कहा कि शहर में 28 लाख लोग पानी की किल्लत से जूझ रहे हैं। मंत्री का अनिश्चितकालीन अनशन शुक्रवार को शुरू हुआ और उन्होंने आरोप लगाया कि हरियाणा यमुना नदी में दिल्ली के हिस्से का पानी नहीं छोड़ रहा है।

उन्होंने कहा कि शुक्रवार को हरियाणा ने 11 करोड़ गैलन प्रतिदिन (एमजीडी) कम पानी छोड़ा। उन्होंने कहा, ‘‘एक एमजीडी पानी से 28,000 लोगों को जलापूर्ति होती है। 100 एमजीडी पानी की कमी का मतलब है कि दिल्ली में 28 लाख लोगों को पानी नहीं मिल रहा है।’’ जल मंत्री ने कहा कि दिल्ली को पानी के लिए पड़ोसी राज्यों पर निर्भर रहना पड़ता है। उन्होंने कहा कि पड़ोसी राज्यों से नदियों और नहरों के जरिए उसे 1,005 एमजीडी पानी मिलता है जिसमें से हरियाणा 613 ​​एमजीडी पानी मुहैया कराता है। उन्होंने कहा कि दिल्ली में जारी भीषण गर्मी के बीच हरियाणा कुछ सप्ताह से 513 एमजीडी पानी ही दे रहा है जिस कारण 28 लाख से अधिक लोग प्रभावित हो रहे हैं।