ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRखत्म कराया गया आतिशी का अनशन, संजय सिंह ने कहा- जान पर खतरा देख फैसला

खत्म कराया गया आतिशी का अनशन, संजय सिंह ने कहा- जान पर खतरा देख फैसला

पिछले पांच दिनों से अनशन पर बैठीं आतिशी को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उनकी तबीयत को देखते हुए आम आदमी पार्टी ने अनशन खत्म करने का फैसला लिया है।

खत्म कराया गया आतिशी का अनशन, संजय सिंह ने कहा- जान पर खतरा देख फैसला
Aditi Sharmaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीTue, 25 Jun 2024 11:26 AM
ऐप पर पढ़ें

आम आदमी पार्टी ने दिल्ली की जल मंत्री आतिशी का अनशन खत्म करा दिया है। आप नेता संजय सिंह ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया है कि आतिशी की तबीयत बिगड़ने के बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। डॉक्टरों ने साफ कहा है कि अगर उन्हें अस्पताल में भर्ती नहीं कराया गया तो उनकी जान पर खतरा हो सकता है। ऐसे में उन्हें तुरंत अस्पताल में भर्ती कराया गया और सभी नेताओं ने विचार विमर्श कर उनके अनशन को भी खत्म करने का फैसला किया। 

आतिशी दिल्ली के जल संकट को लेकर 5 दिनों से अनशन पर बैठी थीं। इस दौरान लगातार उनके शुगर लेवल और बीपी की जांच की जा रही थी। बताया जा रहा है कि सोमवार रात उनका शुगर लेवल गिरकर 36 तक पहुंच गया जिसके बाद उन्हें तुरंत अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा। संजय सिंह ने बताया कि डॉक्टर लगातार आतिशी का चेकअप कर रहे थे।

उनकी बिगड़ती तबीयत को देखते हुए डॉक्टर उन्हें अनशन खत्म करने की सलाह भी दे रहे थे। सोमवार रात को अचानक उनकी तबीयत बिगड़ना शुरू गई। उनका शुगर लेवल 36 जाने पर डॉक्टरों ने कहा कि अगर अब आतिशी को अस्पताल में भर्ती नहीं कराया गया तो उनकी जान को खतरा हो सकता है। ऐसे में विचार विमर्श कर उन्हें तुरंत अस्पताल में भर्ती कराया गया। वह फिलहाल आईसीयू में हैं। संजय सिंह ने कहा कि इसी के साथ हमने अनशन पर भी विराम लगाने का फैसला किया है लेकिन जल संकट को लेकर लड़ाई जारी रहेगी। 

पीएम को लिखेंगे चिट्ठी

संजय सिंह ने कहा कि जल संकट को लेकर आम आदमी पार्टी एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिखेगी और इस समस्या को जल्द सुलझाने की और दिल्ली के हक का पानी दिलवाने की अपील करेंगी। उन्होंने कहा, इस बीच हमारा एक प्रतिनिधिमंडल उपराज्यपाल वीके सक्सेना से भी मिला था और उनसे कहा कि वह हरियाणा के मुख्यमंत्री से बात कर इस समस्या को जल्द से जल्द सुलझाने में मदद करें। इसके बाद उन्होंने उसी दिन शाम 4 बजे हरियाणा के सीएम से बात की और आश्वस्त किया दिल्ली को पानी मिलेगा। ऐसे में इन सब स्थितियों को देखते हुए अनशन की लड़ाई खत्म की जा रही है लेकिन सभी विपक्षियों को लामबंद कर संसद में पानी के मुद्दे को उठाया जाएगा।

हरियाणा पर लगाया पानी रोकने का आरोप

आम आदमी पार्टी का कहना है कि हरियाणा सरकार दिल्ली वालों के हक पानी रोक रही है जिसके चलते दिल्ली में जल संकट पैदा हो गया है। इसके चलते हर दिन लगभग 28 लाख लोगों को पीने का पानी नहीं मिल पा रहा।  संजय सिंह ने कहा, दिल्ली को तीन गुना ज्यादा आबादी हो जाने के बावजूद साल 1994 में हुए समझौते के तहत पानी दिया जा रहा था। लेकिन अब उसमें भी कटौती की जा रही है।  दिल्ली में केजरीवाल की सरकार ने 12 हजार किलोमीटर पानी की नई Pipeline बिछाई। कैनाल को पक्का कराने के लिए 500 करोड़ रुपए खर्च किए। दिल्ली के लोगों को पानी देने के लिए AAP की सरकार ने सभी प्रयास किए हैं।  दिल्ली की जनता ने लोकसभा चुनाव में सातों सांसद BJP के जिताए और BJP की सरकार ने दिल्लीवालों के हक़ का पानी ही रोक दिया। 

वहीं, पार्टी के राज्यसभा सदस्य एनडी गुप्ता ने कहा कि यह आम आदमी पार्टी की लड़ाई नहीं है। बल्कि दिल्ली के लोगों के हक की लड़ाई है। जब भीषण गर्मी में लोगों को पानी पिलाया जाता है। जगह-जगह प्याऊ लगाए जाते हैं। ऐसे वक्त पर हरियाणा सरकार दिल्ली के लोेगों को पानी के लिए तरसा रही है और केंद्र सरकार इसमें कोई हस्तक्षेप नहीं कर रही है।