DA Image
22 नवंबर, 2020|2:48|IST

अगली स्टोरी

केजरीवाल ने मांगी ITBP से मदद तो अमित शाह बोले- 3 दिन पहले ही तय हो चुकी है सारी बात

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह को पत्र लिखकर दक्षिणी दिल्ली के राधा स्वामी सत्संग केंद्र में स्थापित 10,000 बेड वाले कोविड केयर केंद्र का दौरा करने के लिए आमंत्रित किया है। इसके साथ ही केजरीवाल ने इस कोविड केंद्र के संचालन के लिए आईटीबीपी से डॉक्टर और नर्स उपलब्ध कराने की मांग भी की है।

केजरीवाल के इस पत्र के जवाब में गृहमंत्री अमित शाह ने भी मंगलवार शाम को ट्वीट कर कहा,  ''प्रिय केजरीवाल जी, यह हमारी बैठक में 3 दिन पहले ही तय हो चुका है और MHA ने दिल्ली के राधा स्वामी सत्संग ब्यास में 10,000 बेड के कोविड केयर सेंटर के संचालन का काम ITBP को सौंप दिया है। काम पूरे जोरों पर है और इस सेंटर का बड़ा हिस्सा 26 जून तक चालू हो जाएगा।''

चीन के सबसे बड़े अस्पताल से 10 गुना बड़ा है दिल्ली का कोविड केयर सेंटर

सेंटर को सरदार पटेल कोविड केयर सेंटर एंड हॉस्पिटल नाम दिया गया

गौरतलब है कि गृहमंत्री अमित शाह ने दक्षिणी दिल्ली के छतरपुर स्थित राधा स्वामी सत्संग ब्यास केंद्र में कोरोना रोगियों के लिए बनाए जा रहे भारत के सबसे बड़े क्वारंटाइन सेंटर के संचालन का काम भारत-तिब्बत सीमा पुलिस के चिकित्सा कर्मियों सौंप दिया है। इस क्वारंटाइन सेंटर में 10,200 से अधिक मरीजों को रखा जा सकेगा। 15 फुटबॉल मैदानों जितने बड़े छतरपुर के इस सेंटर को सरदार पटेल कोविड केयर सेंटर एंड हॉस्पिटल नाम दिया गया है।

गृह मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि कोरोना रोगियों के लिए अस्थायी रूप से बनाया गया यह सेंटर चीन के लीशेंसन में स्थापित किए गए सेंटर से 10 गुना बड़ा होगा। चीन के सेंटर में 1,000 मरीजों को रखने की सुविधा थी। फरवरी में चीनी राजनयिकों ने उस अस्पताल के निर्माण का एक वीडियो जारी किया था।

गृहमंत्री अमित शाह ने इस महीने की शुरुआत में उपराज्यपाल अनिल बैजल से ऐसी जगहों का पता लगाने को कहा था जहां जरूरत पड़ने पर दिल्ली सरकार कोरोना रोगियों को रखने और इलाज करने की अपनी क्षमता का तेजी से विस्तार कर सके। 

उपराज्यपाल की अपील के बाद आध्यात्मिक संगठन राधा स्वामी सत्संग ब्यास केंद्र ने सबसे पहले मदद का हाथ आगे बढ़ाया था। इससे पहले लॉकडाउन के दौरान इस केंद्र ने देश के अन्य हिस्सों में अपने कुछ आश्रमों को प्रवासियों के लिए भी खोल दिया था। इतना ही नहीं, संगठन ने सरकार से कहा है कि वह मरीजों के लिए भोजन भी उपलब्ध करा सकती है।

अमित शाह के इस सप्ताह के अंत में इस सेंटर का दौरा करने की उम्मीद है। संभवतः गुरुवार तक अधिकारियों से पहले 2,000 बेड के संचालन शुरू करने को कहा गया है। शेष बेड को 3 जुलाई तक स्थापित करने का लक्ष्य रखा गया है।

दिल्ली सरकार ने पहले अनुमान लगाया था कि इस महीने के अंत तक दिल्ली में कोरोना मरीजों की संख्या 1 लाख तक पहुंच जाएगी, जिसके लिए लगभग 15,000 बिस्तरों की आवश्यकता होगी।  

अधिकारियों ने कहा कि अमित शाह ने आईटीबीपी के चिकित्सा कर्मियों से कोविड केयर सेंटर के स्टाफ की मदद करने को कहा है। 10,200 बेड के इस केंद्र के शुरू हो जाने के बाद लगभग 1,400 नर्सों के अलावा 800 सामान्य डॉक्टरों और 70 विशेषज्ञ डॉक्टरों की आवश्यकता होगी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Arvink Kejriwal requestes for deployment of Army and ITBP doctors and nurses at 10000-bed Covid Care Centre Amit Shah replied by tweet