ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRसुनीता कर सकेंगी पति केजरीवाल से मुलाकात, तिहाड़ प्रशासन ने मान ली बात; दो और नेता भी जाएंगे

सुनीता कर सकेंगी पति केजरीवाल से मुलाकात, तिहाड़ प्रशासन ने मान ली बात; दो और नेता भी जाएंगे

जेल में बंद आम आदमी पार्टी (आप) के सबसे बड़े नेता अरविंद केजरीवाल की पत्नी सुनीता केजरीवाल उनसे तिहाड़ में मुलाकात कर सकेंगी। तिहाड़ जेल प्रशासन ने इसके लिए परमिशन दे दी है।

सुनीता कर सकेंगी पति केजरीवाल से मुलाकात, तिहाड़ प्रशासन ने मान ली बात; दो और नेता भी जाएंगे
Devesh Mishraपीटीआई,नई दिल्लीMon, 29 Apr 2024 01:56 PM
ऐप पर पढ़ें

आम आदमी पार्टी (आप) ने सोमवार को बताया कि तिहाड़ जेल प्रशासन ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की पत्नी सुनीता केजरीवाल को तिहाड़ जेल में उनसे मिलने की अनुमति दे दी है। दोपहर 12:55 बजे सुनीता और आतिशी सीएम केजरीवाल से मिलने तिहाड़ जेल पहुंची हैं। दरअसल, 'आप' ने 28 अप्रैल को दावा किया था कि सीएम केजरीवाल से उनकी पत्नी सुनीता की मुलाकात की परमिशन नहीं दी जा रही है। इस पर तिहाड़ जेल प्रशासन ने कहा कि केजरीवाल से 'आप' के दो नेताओं की मीटिंग पहले से ही फिक्स है, इसके बाद ही सुनीता केजरीवाल को मिलने का समय दिया जा सकता है।

सुनीता को मिली मुलाकात की परमिशन
'आप' से मिली जानकारी के मुताबिक, तिहाड़ जेल प्रशासन ने सोमवार को सुनीता केजरीवाल को तिहाड़ में अरविंद केजरीवाल से मिलने की परमिशन दी है। तिहाड़ के एक सूत्र ने इससे पहले कहा था कि मुलाकात से इनकार करने का कोई सवाल ही नहीं है, बस हम नियमों का पालन कर रहे हैं। दरअसल, सुनीता ने इस मुलाकात के लिए कल ही आवेदन दिया था। ऐसे में तिहाड़ का कहना था कि पहले से तय मीटिंग हो जाने के बाद ही उन्हें अनुमति दी जा सकती है। अब सुनीता आज ही केजरीवाल से मुलाकात कर सकेंगी। 

दो और नेता भी जाएंगे
जानकारी के मुताबिक, 29 अप्रैल को दोपहर 12:30 बजे दिल्ली सरकार में मंत्री आतिशी सीएम केजरीवाल से मुलाकात करने जाएंगी। वहीं मंगलवार को पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान 'आप' सुप्रीमो से मिलेंगे। यह दोनों मुलाकातें पहले ही तय की जा चुकी थीं। ऐसे में अब आज सुनीता को भी अनुमति मिल गई है।

तिहाड़ जेल प्रशासन ने सुनीता केजरीवाल को पहले क्यों नहीं दी मुलाकात की परमिशन? यहां क्लिक कर डिटेल में पढ़िए... 

केजरीवाल की याचिका पर आज 'सुप्रीम' सुनवाई
दरअसल, अरविंद केजरीवाल ने ईडी की गिरफ्तारी को अवैध बताते हुए दिल्ली हाई कोर्ट में याचिका दायर की थी। कोर्ट ने केंद्रीय जांच एजेंसी के इस ऐक्शन को सही ठहराया और यह कहा था कि ईडी के पास गिरफ्तारी के अलावा कोई खास विकल्प बचा नहीं था। ऐसे में सीएम केजरीवाल ने हाई कोर्ट के फैसले को चुनौती देते हुए सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था। देश की सबसे बड़ी अदालत में आज उसपर सुनवाई होनी है।