ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRकेजरीवाल की गिरफ्तारी से जमानत तक, कब क्या हुआ; टाइमलाइन से जानें

केजरीवाल की गिरफ्तारी से जमानत तक, कब क्या हुआ; टाइमलाइन से जानें

Arvind Kejriwal Bail: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को जमानत मिल गई है। ईडी ने 21 मार्च को उन्हें शराब घोटाले से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में गिरफ्तार किया था। अब नियमित बेल पर बाहर आएंगे।

केजरीवाल की गिरफ्तारी से जमानत तक, कब क्या हुआ; टाइमलाइन से जानें
india-politics-vote-kejriwal-10 jpg
Sneha Baluniहिन्दुस्तान,नई दिल्लीFri, 21 Jun 2024 07:02 AM
ऐप पर पढ़ें

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने कथित शराब घोटाले में अरविंद केजरीवाल को एक के बाद एक नौ समन भेजे, लेकिन मुख्यमंत्री पूछताछ में शामिल नहीं हुए। इसके बाद 21 मार्च को केजरीवाल गिरफ्तार कर लिए गए। उन्हें लोकसभा चुनाव में प्रचार के लिए बेल भी मिली। अब नियमित बेल पर बाहर आएंगे। स्पेशल जज न्याय बिंदु ने अरविंद केजरीवाल के जमानत आदेश पर 48 घंटे के लिए रोक लगाने के ईडी के आग्रह को भी खारिज कर दिया। स्पेशल जज ने एक लाख रुपये के निजी मुचलके पर आम आदमी पार्टी (आप) नेता केजरीवाल को रिहा करने का आदेश दिया।

कब क्या हुआ

21 मार्च को गिरफ्तार- ईडी की टीम मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के घर पहुंची। वहां लगभग दो घंटे की पूछताछ के बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया।
9 अप्रैल को याचिका खारिज- दिल्ली हाईकोर्ट ने ईडी द्वारा गिरफ्तारी के खिलाफ केजरीवाल की याचिका खारिज की।
15 अप्रैल को जवाब मांगा- सुप्रीम कोर्ट ने अपनी गिरफ्तारी को चुनौती देने वाली केजरीवाल की याचिका पर ईडी से 24 अप्रैल तक जवाब मांगा।
27 अप्रैल को अवैध बताया- केजरीवाल ने सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि इस मामले में गिरफ्तारी अवैध है।
3 मई को जमनात पर विचार- सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि लोकसभा चुनाव के मद्देनजर केजरीवाल को अंतरिम जमानत देने पर विचार कर सकता है।
23 मार्च को चुनौती दी- केजरीवाल ने ईडी द्वारा उनकी गिरफ्तारी और उन्हें एजेंसी की हिरासत में भेजने के ट्रायल कोर्ट के आदेश को चुनौती देते हुए दिल्ली उच्च न्यायालय का रुख किया।
10 अप्रैल को शीर्ष कोर्ट पहुंचे- केजरीवाल ने गिरफ्तारी को बरकरार रखने के उच्च न्यायालय के आदेश को चुनौती देते हुए उच्चतम न्यायालय का रुख किया।
24 अप्रैल को प्रवर्तन निदेशालय ने सुप्रीम कोर्ट में अपना पक्ष रखते हुए कथित घोटाले के बारे में बताया।
29 अप्रैल को सवाल उठाया- सुप्रीम कोर्ट ने बयान दर्ज कराने के लिए बार-बार समन भेजने के बावजूद ईडी के समक्ष केजरीवाल के उपस्थित नहीं होने पर सवाल उठाया और पूछा कि क्या वह अपना पक्ष दर्ज नहीं कराने के आधार पर गिरफ्तारी को चुनौती दे सकते हैं।
3 मई को जमानत पर विचार- सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि लोकसभा चुनाव के मद्देनजर केजरीवाल को अंतरिम जमानत देने पर विचार कर सकता है।
8 मई को फैसला सुरक्षित- सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि वह केजरीवाल को अंतरिम जमानत पर 10 मई को आदेश सुनाएगा।
10 मई को- सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें लोकसभा चुनाव में प्रचार करने के लिए एक जून तक के लिए अंतरिम जमानत दी थी।
2 जून को केजरीवाल ने तिहाड़ जेल में सरेंडर किया।
20 जून को सीएम को जमानत दी गई-  दिल्ली की विशेष अदालत ने केजरीवाल को एक लाख रुपये के निजी मुचलके पर नियमित दी। सीएम आज जेल से बाहर आ सकते हैं।