ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCR80 घंटे शांत रहीं स्वाति मालीवाल, फिर क्यों अचानक बिगड़ी बात; सब्र टूटने की वजह

80 घंटे शांत रहीं स्वाति मालीवाल, फिर क्यों अचानक बिगड़ी बात; सब्र टूटने की वजह

सूत्रों के मुताबिक स्वाति मालीवाल को पार्टी की तरफ से भरोसा दिया गया था कि बिभव कुमार के खिलाफ ऐक्शन लिया जाएगा लेकिन जब उन्होंने दोनों की साथ में तस्वीर देखी तो उनका सब्र जवाब दे गया।

80 घंटे शांत रहीं स्वाति मालीवाल, फिर क्यों अचानक बिगड़ी बात; सब्र टूटने की वजह
Sudhir Jhaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSat, 18 May 2024 08:31 AM
ऐप पर पढ़ें

पीसीआर को कॉल किया, फिर थाने गईं और एक फोन कॉल के बाद बिना शिकायत दिए वापस आ गईं। आम आदमी पार्टी की राज्यसभा सांसद के साथ 13 मई को मुख्यमंत्री आवास में क्या हुआ? इस सवाल पर 16 मई की शाम तक अटकलों का दौर जारी रहा। वजह थी स्वाति मालीवाल की करीब 80 घंटे की खामोशी। गुरुवार को जब उनके घर पर पुलिस की टीम पहुंची तो स्वाति मालीवाल ने ढाई पन्नों की एक शिकायत में दावा किया कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के पीएस बिभव कुमार ने उन पर हमला किया और बुरी तरह पीटा। हालांकि, आम आदमी पार्टी ने स्वाति के आरोपों को खारिज करते हुए उन्हें भाजपा की साजिश का हिस्सा बता डाला है।

क्यों 80 घंटे तक चुप रहीं स्वाति
सूत्रों के मुताबिक, 13 मई को हंगामे के तुरंत बाद पार्टी की ओर से स्वाति से संपर्क किया गया था और उन्हें सही कार्रवाई का भरोसा दिया गया था। स्वाति के करीबी लोगों का कहना है कि पार्टी से मिले आश्वासन की वजह से वह चुप थीं। पार्टी के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने मीडिया के सामने आकर कहा था कि बिभव कुमार ने स्वाति के साथ अभद्रता और बदतमीजी की है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इसका संज्ञान लिया है और वह सख्त कार्रवाई करेंगे। बताया जाता है कि अगले दिन संजय सिंह जब स्वाति मालीवाल के घर पहुंचे तब भी उन्होंने स्वाति को भरोसा दिया था। 

एक तस्वीर से बिगड़ी बात
इस बीच एक तस्वीर ने आग में घी का काम किया। यह तस्वीर थी केजरीवाल और उनके पीए बिभव कुमार की जिन पर स्वाति ने हमले का आरोप लगाया है। बुधवार रात जब दिल्ली के मुख्यमंत्री लखनऊ पहुंचे तो एयरपोर्ट से बाहर निकलते समय उनके पीछे बिभव कुमार की तस्वीर मीडिया के जरिए सामने आई। स्वाति के एक बेहद करीबी शख्स ने नाम गोपनीय रखने की शर्त पर बताया कि इसे देखकर मालीवाल का भरोसा टूट गया। इसके बाद ही उन्होंने कानूनी ढंग से न्याय पाने का फैसला कर लिया।

अब स्वाति बनाम AAP की जंग
स्वाति मालीवाल ने ना सिर्फ पुलिस को शिकायत दी है, बल्कि सोशल मीडिया के जरिए भी उन्होंने मोर्चा खोल दिया है। अब पूरी लड़ाई स्वाति बनाम बिभव की नहीं, स्वाति बनाम AAP की हो चुकी है। आम आदमी पार्टी ने स्वाति मालीवाल को भाजपा की साजिश का हिस्सा बता दिया है। इस बीच मालीवाल ने डीपी से केजरीवाल की तस्वीर हटाकर अलगाव का संकेत दे दिया है।