ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRकेजरीवाल सरकार और DMRC के बीच MoU पर साइन, कितने नए स्टेशन होंगे और किसे फायदा; जानें सबकुछ

केजरीवाल सरकार और DMRC के बीच MoU पर साइन, कितने नए स्टेशन होंगे और किसे फायदा; जानें सबकुछ

बता दें कि यह कॉरिडोर करीब 65.20 किलोमीटर लंबा है। इसमें 45 स्टेशन होंगे। इनमें रिठाला, बवाना, नरेला और कुंडली कॉरिडोर, इंद्रलोक, इंद्रप्रस्थ कॉरिडोर और लाजपत नगर और साकेत जी ब्लॉक कॉरिडोर शामिल है।

केजरीवाल सरकार और DMRC के बीच MoU पर साइन, कितने नए स्टेशन होंगे और किसे फायदा; जानें सबकुछ
Nishant Nandanलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीMon, 19 Feb 2024 10:44 PM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली मेट्रो से सफर करने वाले लोगों के लिए अच्छी खबर है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली सरकार, DMRC और केंद्र सरकार के बीच MoU साइन किए जाने को मंजूरी दे दी है। यह MoU मेट्रो के चौथे चरण के तहत पहले तीन कॉरिडोर के लिए साइन किया गया है। यह कॉरिडोर करीब 65.20 किलोमीटर लंबा है। इसमें 45 स्टेशन होंगे। न्यूज एजेंसी ANI ने बताया है कि इनमें रिठाला, बवाना, नरेला और कुंडली कॉरिडोर, इंद्रलोक, इंद्रप्रस्थ कॉरिडोर और लाजपत नगर और साकेत जी ब्लॉक कॉरिडोर शामिल है।

दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन 65.2 किलोमीटर स्ट्रेच के तीन कॉरिडोर का निर्माण प्राथमिकता के तौर पर कर रहा है। अब सीएम केजरीवाल के द्वारा हस्ताक्षर किए जाने के बाद चौथे चरण के तीन कॉरिडोर के निर्माण में आने वाली सभी बाधाएं खत्म हो जाएंगी। इससे पहले जुलाई 2023 में डीएमआरसी ने कहा था कि प्रस्तावित रिठाला-बवाना-नरेला कॉरिडोर का विस्तार हरियाणा में कुंडली तक भी किया जा सकता है। ताकि पड़ोसी राज्यों सेआने वाले लोगों को भी अहम सुविधाएं मिल सकें। 

बताया जा रहा है कि यह MoU पिछले काफी समय से पेंडिंग में पड़ा था। सीएम केजरीवाल खुद इस कॉरिडोर की राह में पड़ने वाली अड़चने को दूर करने के लिए निजी तौर पर प्रयासरत थे। जिसके बाद अब इस कॉरिडोर के निर्माण की सभी बाधाएं दूर होने के बाद रिठाला, बवाना, नरेला और कुंडली कॉरिडोर, इंद्रलोक, इंद्रप्रस्थ कॉरिडोर और लाजपत नगर और साकेत और इनके आसपास के इलाके के लोगों को बड़ी सुविधा हासिल होगी। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें