ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRईडी ने जिस दिन पूछताछ के लिए बुलाया, उसी तारीख को केजरीवाल-मान करेंगे 'हल्ला बोल'

ईडी ने जिस दिन पूछताछ के लिए बुलाया, उसी तारीख को केजरीवाल-मान करेंगे 'हल्ला बोल'

ईडी ने दिल्ली के कथित शराब घोटाले से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को पांचवां समन जारी किया है। ऐसे संकेत हैं कि केजरीवाल इस समन पर भी ईडी के सामने पेश नहीं होंगे।

ईडी ने जिस दिन पूछताछ के लिए बुलाया, उसी तारीख को केजरीवाल-मान करेंगे 'हल्ला बोल'
Krishna Singhपीटीआई-भाषा,नई दिल्लीWed, 31 Jan 2024 08:06 PM
ऐप पर पढ़ें

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने दिल्ली के कथित शराब घोटाले से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को पांचवां समन जारी किया है। समझा जाता है कि ईडी की ओर से केजरीवाल को 2 फरवरी को जांच में शामिल होने के लिए कहा गया है। वहीं आम आदमी पार्टी ने ऐलान किया है कि वह दो फरवरी को बीजेपी हेडक्वार्टर पर एक विशाल विरोध प्रदर्शन करेगी। इस विरोध प्रदर्शन में अरविंद केजरीवाल और भगवंत मान भी शामिल होंगे। AAP का कहना है कि यह विरोध प्रदर्शन चंडीगढ़ मेयर के चुनाव में कथित गड़बड़ी को लेकर किया जाएगा। 

आधिकारिक जानकारी के मुताबिक, आम आदमी पार्टी चंडीगढ़ मेयर चुनाव में धांधली के आरोपों को लेकर दो फरवरी को भाजपा मुख्यालय पर प्रदर्शन करेगी, जिसमें दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल व पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान समेत पार्टी के अन्य नेता व कार्यकर्ता शामिल होंगे। पार्टी का आरोप है कि किसी भी समीकरण के आधार पर भाजपा मेयर का चुनाव नहीं जीत सकती थी लेकिन सोची समझी साजिश के तहत चुनाव को जीता गया। इस मामले को लेकर व्यापक स्तर पर पार्टी विरोध प्रदर्शन करेगी। 

ध्यान रहे कि मंगलवार को हुए चंडीगढ़ मेयर चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) जीत गई थी। आम आदमी पार्टी का आरोप है कि बीजेपी संख्याबल के लिहाज से कांग्रेस और आम आदमी पार्टी गठबंधन से पीछे थी। 20 पार्षदों वाला गठबंधन मेयर चुनाव में हार गया और 16 वोट के साथ भाजपा का मेयर जीत गया था। मेयर चुनाव नतीजों के बाद आम आदमी पार्टी और कांग्रेस के पार्षदों ने हंगामा शुरू कर दिया था। दोनों ही पार्टियां जीते के पीछे बड़ी धांधली बता रही हैं। इसलिए शुक्रवार को होने वाले प्रदर्शन में पार्टी के पंजाब और चंडीगढ़ के नीता भी शामिल हो रहे हैं।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को ईडी के पांचवें समन पर आम आदमी पार्टी (आप) ने बुधवार को कहा कि उसकी कानूनी टीम नोटिस का अध्ययन कर रही है। आम आदमी पार्टी कानून के अनुसार निर्णय लेगी। एक संक्षिप्त बयान में आम आदमी पार्टी की मुख्य राष्ट्रीय प्रवक्ता प्रियंका कक्कड़ ने कहा- हमें पांचवें समन के बारे में खबर मिली है। हमारी कानूनी टीम इसका अध्ययन कर रही है और हम तय करेंगे कि कानून के अनुसार क्या करना है। पहले के समन अवैध थे और हमने ईडी से जवाब मांगा था। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि ईडी ने मनी लॉन्ड्रिंग मामले में पूछताछ के लिए केजरीवाल को दो फरवरी को उपलब्ध रहने को कहा है। 

केजरीवाल इससे पहले ईडी की ओर से भेजे गए चार समन पर पूछताछ के लिए पेश नहीं हुए थे। एजेंसी ने इससे पहले 18 जनवरी, तीन जनवरी, पिछले साल 21 दिसंबर और दो नवंबर को आप प्रमुख को तलब किया था। माना जा रहा है कि ईडी ने इस बार उन्हें दो फरवरी के दिन पूछताछ के लिए बुलाया है लेकिन इस तारीख के बारे में आधिकारिक पुष्टि की प्रतीक्षा है। केजरीवाल जांच एजेंसी के नोटिस को 'अवैध' करार देते रहे हैं। अब ईडी ने पांचवां समन भेजकर केजरीवाल की पुरानी दलील को खारिज कर दिया है कि समन कानून के अनुरूप नहीं हैं। सनद रहे मामले में ईडी की ओर से दाखिल आरोपपत्र में केजरीवाल के नाम का कई बार उल्लेख किया गया है। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें