DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हनीट्रैप का शिकार बना एक और पीड़ित सामने आया, गैंग के खिलाफ एक और केस दर्ज

                                                                                                                                                                              -44

हनी ट्रैप में फंसाकर लोगों से लाखों की वसूली करने वाले गिरोह के खिलाफ थाना सेक्टर-39 में मंगलवार रात एक और व्यक्ति ने मुकदमा दर्ज कराया है। पीड़ित का आरोप है कि हनी ट्रैप मामले में गिरफ्तार सेक्टर-44 चौकी प्रभारी सुनील कुमार शर्मा और विनीता नामक महिला ने उनसे पांच लाख रुपये वसूल किए थे तथा पांच लाख रुपये की और मांग कर रहे थे।

पुलिस अधीक्षक (सिटी) सुधा सिंह ने बताया कि सेक्टर-31 में रहने वाले अशोक कुमार ने थाना सेक्टर-39 में मंगलवार रात रिपोर्ट दर्ज कराई कि 13 अप्रैल को उनके घर पर विनीता नामक एक महिला आई। उसने उनसे अपना पैन कार्ड बनवाने के लिए कहा। महिला ने उन्हें एक रसीद दिखाई जिस पर 11 अप्रैल को उसके द्वारा पैन कार्ड के लिए आवेदन किया गया था।

न्यूज एजेंसी भाषा के अनुसार, एसपी ने बताया कि पीड़ित ने महिला से कहा कि वह अपने घर जाए उनके घर पर आयकर विभाग द्वारा पैन कार्ड स्वतः ही भेज दिया जाएगा। इस बात को लेकर महिला ने अशोक के साथ झगड़ा शुरू कर दिया तथा मारपीट पर उतारू हो गई।

एसपी ने बताया कि 13 अप्रैल को महिला सेक्टर-44 चौकी प्रभारी सुनील शर्मा व अन्य पुलिसकर्मियों के साथ सेक्टर-31 स्थित पीड़ित के घर पहुंची तथा पीड़ित को पुलिस वालों के साथ लेकर सेक्टर-44 चौकी पर आ गई। यहां पर महिला ने उनके खिलाफ बलात्कार का मुकदमा दर्ज कराने की धमकी दी।

पीड़ित के अनुसार, उन्होंने अपनी सफाई में कहा कि वह बुजुर्ग व्यक्ति हैं तथा इस तरह के कृत्य करने के लिए वह सक्षम नहीं है। इसके बावजूद भी महिला और पुलिस वालों ने उनके साथ गाली-गलौज कर उन्हें धमकाया तथा उनसे पांच लाख रुपये ले लिए। पीड़ित का आरोप है कि इसके बावजूद भी चौकी प्रभारी सुनील शर्मा का उनके पास पैसों के लिए फोन आता रहा।

महिला ने मांगी लिफ्ट, थाने पहुंचकर कहा- 'साहब इसने किया मेरा रेप किया'

एसपी ने बताया कि जब मंगलवार को हनी ट्रैप गिरोह चलाने वाले सेक्टर-44 चौकी प्रभारी सुनील शर्मा, तीन सिपाही सहित 15 लोगों की गिरफ्तारी हुई तो पीड़ित थाने पहुंचा। उसने दारोगा, महिला तथा अन्य आरोपियों की शिनाख्त की। इसके बाद पीड़ित ने थाना सेक्टर-39 में इनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया। 

एसपी ने बताया कि कुछ और लोगों ने भी पुलिस से शिकायत की है, जिन्हें इन लोगों ने अपने चंगुल में फंसा कर मोटी रकम उगाही है। 

पुलिस के अनुसार, अभी तक दो दर्जन से ज्यादा लोगों से उगाही करने का मामला संज्ञान में आया है। काफी लोग अब भी इस मामले में शिकायत करने से झिझक रहे हैं, क्योंकि यह लोग ज्यादातर अधेड़ और बुजुर्ग लोगों को अपना शिकार बनाते थे। पुलिस के अनुसार, पीड़ित लोग बदनामी और जेल जाने के डर से इनके द्वारा मांगी गई रकम को देकर अपनी जान बचा लेते थे। अभी कुछ लोग ऐसे हैं जो अपनी बदनामी की वजह से खुलकर सामने नहीं आ रहे हैं।

मालूम हो कि कुछ महिलाएं कार में लिफ्ट लेकर कार चालक पर बलात्कार का झूठा आरोप लगाती थीं, उसके बाद इस गिरोह के लोग उनसे मोटी रकम वसूलते थे। मंगलवार को नोएडा पुलिस ने कार्रवाई करते हुए इस गिरोह में शामिल सेक्टर-44 चौकी प्रभारी सुनील शर्मा, तीन सिपाही, दो महिलाओं सहित 15 लोगों को गिरफ्तार किया था।

हनीट्रैप में फंसाकर उगाही करने वाले पुलिसकर्मियों समेत 15 लोग गिरफ्तार, 2 महिलाएं भी शामिल

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Another victim of Honey Trap gang came in front one more FIR registered against gang