ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRअभी तो वह किसी और चीज में फंस गए; मालिवाल को लेकर केजरीवाल पर शाह का तंज

अभी तो वह किसी और चीज में फंस गए; मालिवाल को लेकर केजरीवाल पर शाह का तंज

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से एक इंटरव्यू में केजरीवाल के प्रचार को लेकर पूछा गया तो उन्होंने स्वाति मालिवाल की ओर इशारा करते हुए कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अभी किसी और चीज में फंस गए हैं। 

अभी तो वह किसी और चीज में फंस गए; मालिवाल को लेकर केजरीवाल पर शाह का तंज
Subodh Mishraएएनआई,नई दिल्लीWed, 15 May 2024 07:02 PM
ऐप पर पढ़ें

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने समाचार एजेंसी एएनआई के साथ इंटरव्यू में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर तंज कसते हुए कहा कि केजरीवाल अभी किसी और चीज में फंस गए हैं। केंद्रीय मंत्री शाह से जब पूछा गया कि अरविंद केजरीवाल के अंतरिम जमानत पर जेल से बाहर आने के बाद इंडिया गठबंधन में एक नई जान आ गई है। उनका नैरेटिव आक्रामक हो गया है। क्या आप ऐसा मानते हैं। 

इस सवाल के जवाब में शाह ने कहा कि अभी तो वह एक अलग ही मामले में फंसे हैं। थोड़ा उनको फ्री हो जाने दीजिए। बाद में देखो क्या होता है। जब उनसे कहा गया कि जिस मामले में वो फंसे हैं वह राज्यसभा की सदस्य हैं स्वाती मालिवाल। इस शाह ने कहा कि वह इस मामले में कोई टिप्पणी नहीं करना चाहते हैं। अगर कोई पुलिस में इसकी शिकायत करता है तो पुलिस उसका संज्ञान लेगी। मगर मैं इतना ही कहता हूं बेचारे को कि जिस मामले में फंसे हैं उससे निपटारा लाने दीजिए। 

जब शाह से कहा गया कि अभी अरविंद केजरीवाल 20 दिन बाहर हैं। वो अपने चुनाव प्रचार में कह रहे हैं कि अगर लोग झाड़ू पर वोट देंगे तो चार मई के बाद उन्हें जेल नहीं जाना पड़ेगा। इस पर शाह ने कहा कि यह कहना कि जेल नहीं जाना पड़ेगा, सुप्रीम कोर्ट की सरेआम अवमानना है। इनका कहना है कि जो चुनाव में विजयी होता है, उसे सुप्रींम कोर्ट दोषी होने के बाद भी जेल नहीं भेजती। शाह ने कहा कि जिन जज साहबों ने उनको जमानत प्रदान की है उनको यह सोचना है कि उनके जजमेंट का क्या दुरुपयोग या उपयोग हो रहा है।

अमित शाह से पूछा गया कि सुप्रीम कोर्ट के जजमेंट पर आप क्या कहेंगे। इस पर शाह ने कहा कि न्याय की व्याख्या करने का सुप्रीम कोर्ट को अधिकार है। मगर मैं मानता हूं कि यह रूटीन और नॉर्मल प्रकार का जजमेंट नहीं है। देश में बहुत सारे लोग मानते हैं कि स्पेशल ट्रीटमेंट दिया गया है।