DA Image
30 नवंबर, 2020|12:55|IST

अगली स्टोरी

मां-बेटी से दुष्कर्म का आरोपी आशु महाराज पुलिस हिरासत में, दिल्ली के हौज खास थाने में हो रही पूछताछ

Ashu Maharaj

मां-बेटी से दुष्कर्म करने के आरोपी तथाकथित ज्योतिषाचार्य आशु महाराज को दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने शाहदरा इलाके से इलाके से हिरासत में ले लिया है। क्राइम ब्रांच की टीम हौजखास थानें में उससे पूछताछ कर रही है। पुलिस पिछले कई दिन से उसकी तलाश कर रही थी। 

जानकारी के अनुसार, गाजियाबाद की रहने वाली एक महिला ने आशु महाराज उर्फ आसिफ खान के खिलाफ यौन उत्पीड़न का मामला दर्ज कराया था। महिला ने आरोप लगाया था कि बाबा ने दिल्ली के अपने आश्रम में उसके साथ कई सालों तक रेप किया। महिला के मुताबिक, बाबा के बेटे और दोस्तों ने भी उसका यौन शोषण किया। 

आशु महाराज का असली नाम आसिफ खान

मामले की जांच के दौरान क्राइम ब्रांच को पता चला कि ज्योतिषाचार्य का चोला ओढ़े इस ढोंगी बाबा का असली नाम आसिफ खान है। निर्वाचन आयोग की वोटर लिस्ट में भी आशु भाई गुरुजी की फोटो के सामने उसका नाम आसिफ खान लिखा हुआ है। उसके बेटे की फोटो के सामने उसका नाम समर खान लिखा हुआ है। वोटर लिस्ट में गलती की गुंजाइश इसलिए नजर नहीं आती क्योंकि ठीक उसी के नीचे उसी पते पर रहने वाले आसिफ खान के बेटे समर खान की भी तस्वीर लगी है। आसिफ खान का जन्म वजीरपुर जेजे कॉलोनी में हुआ था। आसिफ ज्योतिष और तंत्र-मंत्र का काम करता था। इसके चलते आसिफ और उसके पिता नहीं आपस में नहीं बनती थी। ऐसे में उसके पिता ने 20 साल पहले उसे घर से निकाल दिया था। जिसके बाद आसिफ ने आशु बनकर ज्योतिष का काम शुरू किया और लोगों के साथ ठगी कर करोड़ों की सम्पत्ति जमा कर ली। आसिफ के परिजन वर्तमान में भी वजीरपुर जेजे कॉलोनी में ही रहते हैं। 

आरोपों के मुताबिक, महिला की बीमार बेटी का इलाज करने के बहाने आरोपी आशु महाराज ने उन्हें अपने रोहिणी के आश्रम में ले जाकर उनके साथ बलात्कार किया। पड़ोसियों के मुताबिक, बाबा के आश्रम में न सिर्फ जन्म कुंडली और हाथों की रेखा देखकर भविष्य बताया जाता था, बल्कि कई बार यहां तंत्र-मंत्र और अनुष्ठान भी होते थे।

रोहिणी इलाके से शुरू किया धंधा

शुरूआती दिनों में ही 50 लाख के घाटे ने आशु को पदम नगर से धंधा बंद करने पर मजबूर कर दिया, मगर अब आसिफ खान उर्फ आशु भाई को ये समझ आ गया था कि खुद का भविष्य भले कैसा भी हो मगर दूसरों का भविष्य बताने में ज्यादा फायदा है। लिहाजा उसने पदम नगर से निकलकर रोहिणी इलाके में अपना धंधा फिर से शुरू किया।
 
करोड़ों की संपत्ति का मालिक है आशु भाई

अब आलम ये है कि आशु भाई की दिल्ली के कई इलाकों में करोड़ों की प्रॉपर्टी हैं, जिसमें पीतमपुरा के तरुण एंक्लेव में मकान, रोहिणी सेक्टर-7 में आश्रम और साउथ दिल्ली के हौजखास जैसे पॉश इलाके में ऑफिस शामिल है। बाबा आयुर्वेदिक दवाएं भी खुद बनाता था।

महिला ने दर्ज कराई रिपोर्ट

गौरतलब है कि बीते दिनों गाजियाबाद की रहने वाली एक महिला ने आशु महाराज, एक दोस्त और उसके बेटे के खिलाफ गैंगरेप, जान से मारने की धमकी देने के साथ-साथ नाबालिग बेटी से छेड़छाड़ के लिए पॉक्सो एक्ट की धाराओं में केस दर्ज कराया था। पुलिस ने इस मामले की गंभीरता को देखते हुए केस दर्ज कर मामले की जांच दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच को सौंप दी थी। एफआईआर दर्ज होने के बाद से पुलिस टीम हर उस जगह पर छापा मारी कर रही थी, जहां उसका आना-जाना था। 

आशु बाबा के आश्रम पहुंची पुलिस, जांच के बाद फुटेज व दस्तावेज किए जब्त

बता दें कि, दुष्कर्म के आरोपी आशु महाराज के आश्रम पर दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा ने छापा मारा था। बुधवार को अपराध शाखा की टीम हौजखास स्थित आश्रम पर पहुंची, जहां जांच कर रही टीम करीब ढ़ेड घंटे तक आश्रम में मौजूद रही और सीसीटीवी कैमरे, कंप्यूटर व अन्य दस्तावेजों की जांच की। जांच के बाद पुलिस घर से कुछ अहम दस्तावेज और सीसीटीवी की फुटेज अपने साथ ले गई थी।  

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Allegedly rape accused Ashu Maharaj detained from Delhi Shahdara