ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRदिल्ली में मौसम बदलते ही स्कूलों की टाइमिंग पर आया नया अपडेट, पढ़ लें

दिल्ली में मौसम बदलते ही स्कूलों की टाइमिंग पर आया नया अपडेट, पढ़ लें

दिल्ली के स्कूलों की टाइमिंग में अहम बदलाव किए गए थे। दिल्ली सरकार के शिक्षा निदेशालय की तरफ से कहा गया है, 'मौसम में सुधार के बाद अब दिल्ली के सभी स्कूल 6 फरवरी से अपने नॉर्मल समय पर चलेंगे।'

दिल्ली में मौसम बदलते ही स्कूलों की टाइमिंग पर आया नया अपडेट, पढ़ लें
Nishant Nandanलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीMon, 05 Feb 2024 06:12 PM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली में ठंड का असर थोड़ा कम हुआ है। हालांकि, कोहरा अभी भी कुछ जगहों पर कहर बरपा रहा है। इस बीच दिल्ली में स्कूल जाने वाले छात्रों के लिए दिल्ली सरकार ने बड़ा ऐलान किया है। दिल्ली के मौसम में सुधार के बाद दिल्ली सरकार ने स्कूलों को लेकर अहम फैसला किया है। दिल्ली सरकार के शिक्षा निदेशालय की तरफ से कहा गया है, 'मौसम में सुधार के बाद अब दिल्ली के सभी स्कूल 6 फरवरी से अपने नॉर्मल समय पर चलेंगे।'

दिल्ली सरकार के शिक्षा निदेशालय की तरफ से कहा गया है कि दिल्ली के स्कूल अब अपने पुराने टाइमिंग पर ही चलेंगे। मंगलवार से ही दिल्ली के सभी स्कूल पहले की तरह ही संचालित होंगे। शिक्षा निदेशालय की तरफ से कहा गया है कि अब राजधानी में सभी स्कूल सुबह साढ़े सात बजे खुलेंगे। आपको बता दें कि इससे पहले दिल्ली में ठंड और कोहरे को देखते हुए दिल्ली के सभी स्कूल सुबह 9 बजे से खुल रहे थे।

दिल्ली सरकार के शिक्षा निदेशालय की तरफ से आधिकारिक तौर से जारी बयान में कहा गया है, 'दिल्ली में मौसम के सुधरे हालात के मद्देनजर सभी सरकारी, सरकार द्वारा वित्त पोषित और सभी पंजीकृत निजी स्कूल 6 फरवरी से अपने समय से स्कूल का संचालन करेंगे।' पिछले महीने शिक्षा विभाग ने राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोहरे की स्थिति को देखते हुए स्कूल की समय-सारिणी में बदलाव किया था। दिल्ली में अत्यधिक ठंड को देखते हुए विभाग ने आदेश दिया था कि सभी स्कूलों में सुबह 9 बजे से पहले क्लास शुरू नहीं किए जाएंगे।

इससे पहले शिक्षा निदेशालय की तरफ से यह भी कहा गया था कि दिल्ली में शाम 5 बजे के बाद कक्षाएं संचालित नहीं की जा सकती हैं। बता दें कि दिल्ली में सोमवार को न्यूनतम तापमान 12.4 डिग्री सेल्सियस रहा। इस दौरान तेज हवाएं भी चलीं। इस साल दिल्ली में तापमान 3.9 डिग्री सेल्सियस भी दर्ज किया गया था। यह इस साल का सबसे न्यूनतम तामपान था। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें