ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ NCRएम्स का सर्वर सोमवार से शुरू होने के आसार, मैनुअल काम से मरीजों की परेशानी बढ़ी

एम्स का सर्वर सोमवार से शुरू होने के आसार, मैनुअल काम से मरीजों की परेशानी बढ़ी

एम्स दिल्ली में शनिवार को भी सर्वर चालू नहीं हो सका। इस वजह से लगातार चौथे दिन अस्पताल में काम धीमा रहा। इसके चलते यहां इलाज के लिए आने वाले मरीजों को अनेक दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

एम्स का सर्वर सोमवार से शुरू होने के आसार, मैनुअल काम से मरीजों की परेशानी बढ़ी
Praveen Sharmaनई दिल्ली | हिन्दुस्तानSun, 27 Nov 2022 06:43 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स), दिल्ली में शनिवार को भी सर्वर चालू नहीं हो सका। इस वजह से लगातार चौथे दिन अस्पताल में काम धीमा रहा। इसके चलते यहां इलाज के लिए आने वाले मरीजों को अनेक दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। 

हालांकि, अस्पताल के सूत्रों का कहना है कि सोमवार से अस्पताल की ऑनलाइन सेवाएं धीरे-धीरे शुरू होंगी। अब भी केंद्रीय एजेंसियां दूसरे बैकअप सर्वर से अस्पताल का डेटा और फाइलों को रीस्टोर कर रही हैं। एम्स सूत्रों का कहना है कि सोमवार से कुछ सुविधाएं शुरू होंगी, लेकिन स्थिति पूरी तरह सामान्य होने में अभी कई दिन लग सकते हैं।

इलाज हुआ धीमा : अस्पताल में अब तक मरीजों की सभी रिपोर्ट सर्वर पर अपलोड होकर सीधे इलाज कर रहे डॉक्टर के कंप्यूटर तक पहुंच जाती थी। अभी मरीजों को घंटों लाइन में लगकर रिपोर्ट लेनी पड़ रही हैं। उसके बाद वे डॉक्टर को दिखा रहे हैं। इतना ही नहीं, सर्वर चालू न होने से अस्पताल की सैंपल जांचने की सुविधा भी प्रभावित हुई है। पहले मरीजों के सैंपल पर बारकोड लगाया जाता था और अस्पताल की स्मार्ट लैब इसकी मदद से तेजी से सैंपल जांचकर रिपोर्ट का सही वर्गीकरण कर देती थी। एम्स के चिकित्सा अधीक्षक डॉक्टर डीके शर्मा ने कहा कि अतिरिक्त कर्मचारी लगाने का निर्देश दिया गया है।

अभिनव गुप्ता नाम के व्यक्ति ने बताया कि मेरे रिश्तेदार निजी वार्ड में भर्ती हैं। 10 दिन का पैसा जमा है, लेकिन जांच में कितने रुपये खर्च हुए इसका हिसाब लगाने में अस्पताल को दिक्कत हो रही है, इसलिए छुट्टी मिलने में देरी हुई।

 वहीं प्रीतम सिंह ने कहा कि मेरे बेटे का न्यूरोलॉजी विभाग में टेस्ट होना था, लेकिन सर्वर नहीं चलने की वजह से उसे भर्ती नहीं किया जा सका।