ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRबकाया नहीं देने वाले बिल्डर पर एक्शन, एम्स मैक्स गार्डेनिया की संपत्ति होगी अटैच; 122 फ्लैट होंगे नीलाम

बकाया नहीं देने वाले बिल्डर पर एक्शन, एम्स मैक्स गार्डेनिया की संपत्ति होगी अटैच; 122 फ्लैट होंगे नीलाम

नोएडा अथॉरिटी ने बकाया न देने वाले बिल्डर पर एक्शन लेने की तैयारी शुरू कर दी है। एम्स मैक्स गार्डेनिया बिल्डर के 60 हजार वर्ग मीटर के व्यावसायिक भूखंड का आवंटन निरस्त कर दिया है।

बकाया नहीं देने वाले बिल्डर पर एक्शन, एम्स मैक्स गार्डेनिया की संपत्ति होगी अटैच; 122 फ्लैट होंगे नीलाम
aiims max gardenia property will be attached
Sneha Baluniहिन्दुस्तान,नोएडाThu, 06 Jun 2024 07:50 AM
ऐप पर पढ़ें

नोएडा प्राधिकरण ने बकाया न देने पर सेक्टर-75 स्थित एम्स मैक्स गार्डेनिया बिल्डर के 60 हजार वर्ग मीटर के व्यावसायिक भूखंड का आवंटन निरस्त कर दिया है। इसकी लीज निरस्त करते हुए संपत्ति को अटैच करने का निर्णय लिया है। इस भूखंड में खाली पड़ी संपत्ति को नीलाम कर प्राधिकरण अपना बकाया वसूल करेगा। यहां पर अभी मॉल बना है।

नोएडा प्राधिकरण ने मैसर्स एम्स मैक्स गार्डेनिया डेवलपर्स प्राइवेट लिमिटेड को जीएच-इको सिटी, सेक्टर-75 में कुछ वर्ष पहले 60 हजार वर्ग मीटर व्यावसायिक भूखंड का आवंटन किया था। प्राधिकरण ने बुधवार को इसका आवंटन एवं लीज डीड निरस्त कर दी। इस पर विकसित की गई व्यावसायिक संपत्ति ब्लॉक-ए, बी, सी और डी को अटैच करने का निर्णय लिया गया है। अधिकारियों ने बताया कि इस भूखंड में खाली पड़ी व्यावसायिक संपत्ति को नीलाम कर प्राधिकरण अपना बकाया वसूलेगा।

खरीदारों को नहीं होगी दिक्कत 

लीज निरस्तीकरण एवं अटैच की जा रही संपत्ति पर तृतीय पक्ष यानि खरीदारों के अधिकार सुरक्षित किए गए हैं। पांच जून तक जिन लोगों ने इस भूखंड में बुकिंग करा रखी है या व्यवसाय कर रहे हैं, उनको कोई दिक्कत नहीं होगी और जो भी इस परियोजना का मालिक होगा, वह उसके अधीन रहेंगे। तृतीय पक्ष के अधिकार का सबूत आदेश की तारीख तक हुए बैंक ट्रांजेक्शन होंगे। आदेश की तारीख तक मौके पर आवंटित दुकानें और प्रतिष्ठान यथावत चलते रहेंगे। मौके की स्थिति के अनुसार सीलिंग की कार्रवाई प्राधिकरण करेगा।

3379 फ्लैट की रजिस्ट्री कराएंगे 

एम्स गार्डेनिया को आवंटित ग्रुप हाउसिंग परियोजना में 3379 फ्लैट की रजिस्ट्री होनी बाकी है। इन फ्लैट की रजिस्ट्री सुनिश्चित की जाएगी।

नोएडा सीईओ लोकेश एम ने कहा, 'बिल्डर ने प्रीमियम और अन्य बकाया जमा नहीं किया है। इसी आधार पर व्यावसायिक भूखंड की लीज डीड निरस्त करने का निर्णय लिया गया है। भूखंड में खाली पड़ी संपत्ति को नीलाम कर बकाया लिया जाएगा।'

प्राधिकरण की कार्रवाई अनुचित कंपनी

गार्डेनिया एम्स डेवलपर्स कंपनी के प्रवक्ता ने प्राधिकरण की इस कार्रवाई को अनुचित ठहराया है। उनका कहना है कि बकाये का मामला न्यायालय में विचाराधीन है और न्यायालय में इस मामले को लेकर सुनवाई चल रही है। प्राधिकरण द्वारा बकाये की राशि की गणना हमारे अनुसार सही नहीं है।

बिल्डर को नहीं मिलेगा पैकेज का लाभ

अमिताभकांत समिति से संबंधित सिफारिशों को लेकर बिल्डरों के लिए शासन ने एक पैकेज ऑफर कर रखा है। इस पैकेज का लाभ लेने के लिए एम्स गार्डेनिया ने भी सहमति दी थी, लेकिन निर्धारित समय में कुल बकाये में से 25 प्रतिशत धनराशि जमा न कर महज कुछ करोड़ रुपये ही जमा किए। इस आधार पर प्राधिकरण ने पैकेज का लाभ नहीं देने का निर्णय लिया है।

122 फ्लैट नीलाम कर बकाया वसूला जाएगा

प्राधिकरण ने एम्स मैक्स गार्डेनिया को सेक्टर-46 में ग्रुप हाउसिंग भूखंड आवंटित कर रखा है। इस परियोजना पर प्राधिकरण का 692 करोड़ 48 लाख रुपये बकाया है। प्राधिकरण ने पहले से ही 122 फ्लैट सील कर रखे हैं। अब इन फ्लैट को नीलाम करते हुए बकाया वसूला जाएगा।