ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRकेजरीवाल के लिए मशाल लेकर उतरे AAP कार्यकर्ता, पुलिस से हुई धक्कामुक्की; वीडियो

केजरीवाल के लिए मशाल लेकर उतरे AAP कार्यकर्ता, पुलिस से हुई धक्कामुक्की; वीडियो

AAP नेता सर्वेश मिश्रा को पुलिस ने काबू करने का प्रयास किया तब उन्होंने इसका विरोध करते हुए कहा, 'क्या हम प्रदर्शन तक नहीं कर सकते।' कई दूसरे आप कार्यकर्ताओं ने भी पुलिस की इस कार्रवाई पर सवाल उठाएं

केजरीवाल के लिए मशाल लेकर उतरे AAP कार्यकर्ता, पुलिस से हुई धक्कामुक्की; वीडियो
Nishant Nandanलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीTue, 16 Apr 2024 08:29 PM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी के खिलाफ आम आदमी पार्टी के छात्र मोर्चा CYSS के कार्यकर्ता सड़क पर उतर आए। दिल्ली की सड़क पर AAP हाथ में मशाल लेकर अपना विरोध जताते नजर आए। कथित शराब घोटाले में ईडी द्वारा मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को ईडी ने गिरफ्तार किया है। हाथ में मशाल लिए आप कार्यकर्ता इस गिरफ्तारी के खिलाफ आवाज बुलंद करते नजर आ रहे थे।

मशाल लेकर मार्च कर रहे आप के छात्र कार्यकर्ताओं को जब पुलिस ने रोका तो पुलिस के साथ उनकी गुत्थमगुत्थी भी खूब हुई। केजरीवाल के समर्थन में प्रदर्शन कर रहे इन कार्यकर्ताओं को काबू करने में पुलिस के पसीने छूट गए। न्यूज एजेंसी पीटीआई ने एक वीडियो शेयर किया है उसमें नजर आ रहा है कि किस तरह पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को काबू किया। आप से जुड़े छात्र विंग के एक सदस्य सर्वेश मिश्रा को जब पुलिस ने काबू करने का प्रयास किया तब उन्होंने इसका विरोध करते हुए कहा, 'क्या हम प्रदर्शन तक नहीं कर सकते।' कई दूसरे आप कार्यकर्ताओं ने भी पुलिस की इस कार्रवाई पर सवाल उठाएं।

आपको बता दें कि आम आदमी पार्टी इस वक्त लोकसभा चुनाव को लेकर संकल्प सभा आयोजित करवा रही है। इसके तहत पार्टी के नेता दिल्ली में अलग-अलग लोकसभा क्षेत्रों में जाकर लोगों को संकल्प दिलवा रहे हैं। पार्टी का कहना है कि 1 लाख लोगों को संकल्प दिलाया जाएगा और यह लोग घर-घर जाकर लोगों को बताएंगे कि केजरीवाल को झूठे केस में जेल में डाला गया है।

AAP नेता गोपाल राय ने कहा, 'मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी से लोगों के बीच गुस्सा है। उनकी गिरफ्तारी के खिलाफ लोग सड़क पर उतर आए हैं। आम आदमी पार्टी ने संकल्प सभा कैंपेन शुरू किया है। हम जेल का जवाब वोट से देंगे। यह 23 मई तक जारी रहेगा।