ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRकांग्रेस संग आखिरी दौर में बात, जल्द करेंगे ऐलान; दिल्ली में सीट शेयरिंग पर बोले केजरीवाल

कांग्रेस संग आखिरी दौर में बात, जल्द करेंगे ऐलान; दिल्ली में सीट शेयरिंग पर बोले केजरीवाल

दिल्ली में लोकसभा का चुनाव साथ मिलकर लड़ने को लेकर आप-कांग्रेस की बातचीत अंतिम दौर में है। इसे लेकर जल्द ही घोषणा की जाएगी। दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने इसकी जानकारी प्रेस कॉन्फ्रेंस में दी।

कांग्रेस संग आखिरी दौर में बात, जल्द करेंगे ऐलान; दिल्ली में सीट शेयरिंग पर बोले केजरीवाल
Sneha Baluniलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीWed, 21 Feb 2024 10:56 AM
ऐप पर पढ़ें

लोकसभा चुनाव के मद्देनजर आम आदमी पार्टी (आप) और कांग्रेस के बीच सीट शेयरिंग को लेकर बातचीत ट्रैक पर आ गई है। कुछ दिनों पहले जहां आप के नेता ने कहा था कि वह कांग्रेस को केवल एक सीट देंगे। वहीं अब माना जा रहा है कि दोनों पार्टियों के बीच गठबंधन को लेकर सहमति आखिरी दौर में है। मुख्यमंत्री और आप के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को बताया कि दिल्ली में सीट शेयरिंग को लेकर जल्द ही घोषणा की जाएगी। कांग्रेस के साथ बातचीत अंतिम दौर में है। 
  
दोनों पार्टियों ने दिल्ली में गठबंधन पर चर्चा के लिए दो औपचारिक बैठकें की हैं, जिसमें से आखिरी बैठक जनवरी में हुई थी। सूत्रों ने बताया कि तब से दोनों पार्टियों के शीर्ष नेतृत्व के बीच कई बार चर्चा हो चुकी है। मंगलवार को जब केजरीवाल से एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान गठबंधन को लेकर चल रही बातचीत के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, 'कई दौर की चर्चा हो चुकी है, इस संबंध में चीजें अंतिम चरण में हैं, उनके साथ हमारे गठबंधन की घोषणा जल्द ही की जाएगी...'

अन्य राज्यों में सीट बंटवारे को लेकर दिल्ली सीएम ने कहा, 'हम अन्य राज्यों पर भी चर्चा कर रहे हैं। चर्चा अच्छी तरह से आगे बढ़ रही है और अंतिम चरण में है... जो कोई भी भारत को बचाना चाहता है उसका इंडिया अलायंस में स्वागत है...' बता दे कि दिल्ली में लोकसभा की सात सीट हैं। 2014 और 2019 के चुनाव में इन सभी सीटों पर बीजेपी को जीत मिली थी। 2024 के चुनाव में आप और कांग्रेस मिलकर बीजेपी को चुनौती देकर अपना खाता खोलना चाहती हैं। 

वहीं कांग्रेस सूत्रों के अनुसार, उम्मीद की जा रही है कि दोनों पार्टियां दिल्ली की सातों लोकसभा सीट पर प्रत्येक उम्मीदवार की जीत के आधार पर राजधानी में 4-3 सीट-बंटवारे के फॉर्मूले पर आखिरकार फैसला कर लेंगी। इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, एक वरिष्ठ कांग्रेस नेता ने कहा, 'जहां कांग्रेस ने पहले ही प्रत्येक सीट पर संभावित उम्मीदवारों का एक पैनल गठित कर लिया है, वहीं आप ने भी संभावित उम्मीदवारों की एक सूची बना ली है। इन दोनों पैनलों का मूल्यांकन जीतने की क्षमता के आधार पर किया जाएगा और तय किए गए उम्मीदवारों को टिकट दिया जाएगा'

आप-कांग्रेस के बीच गठबंधन को लेकर बातचीत तब ऑफ द ट्रैक हो गई थी जब आप के राष्ट्रीय महासचिव (संगठन) संदीप पाठक ने पिछले हफ्ते एक संवाददाता सम्मेलन में घोषणा की थी कि अगर गठबंधन होता है तो आप 'कांग्रेस को एक सीट देने को तैयार' है। उन्होंने कहा था कि 'योग्यता' के आधार पर, कांग्रेस पार्टी दिल्ली में 'एक सीट की भी' हकदार नहीं है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें