ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News NCRBJP के 7 विधायक दिल्ली विधानसभा की कार्यवाही से सस्पेंड, LG के अभिभाषण का विरोध पड़ा महंगा

BJP के 7 विधायक दिल्ली विधानसभा की कार्यवाही से सस्पेंड, LG के अभिभाषण का विरोध पड़ा महंगा

दिल्ली विधानसभा के बजट सत्र के उद्घाटन से एक दिन पहले एलजी के अभिभाषण के दौरान हंगामा कर बाधित करने के मामले में भाजपा के 8 विधायकों में से सात को शुक्रवार को मौजूदा सत्र की कार्यवाही से सस्पें

BJP के 7 विधायक दिल्ली विधानसभा की कार्यवाही से सस्पेंड, LG के अभिभाषण का विरोध पड़ा महंगा
Praveen Sharmaनई दिल्ली। आलोक के एन मिश्रा (हिन्दुस्तान टाइम्स डॉट काम)Fri, 16 Feb 2024 01:20 PM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली विधानसभा के बजट सत्र के उद्घाटन से एक दिन पहले उपराज्यपाल (एलजी) के अभिभाषण के दौरान हंगामा कर बाधित करने के मामले में भाजपा के 8 विधायकों में से सात को शुक्रवार को मौजूदा सत्र की कार्यवाही से सस्पेंड कर दिया गया है। विपक्ष के नेता रामवीर सिंह बिधूड़ी, एकमात्र ऐसे भाजपा विधायक हैं जिन्हें सस्पेंड नहीं किया गया है, क्योंकि एलजी के अभिभाषण के विरोध में वह सदन से वॉकआउट कर गए थे, जबकि अन्य भाजपा विधायकों ने फैसले का विरोध किया। 70 सदस्यीय दिल्ली विधानसभा में 'आप' के 62 विधायक हैं।

बजट सत्र के दूसरे दिन शुक्रवार को सदन की कार्यवाही शुरू होते ही 'आप' विधायक और दिल्ली विधानसभा में 'आप' के मुख्य सचेतक दिलीप पांडे ने कहा कि भाजपा विधायकों ने उपराज्यपाल के भाषण को कम से कम 8 बार बाधित किया, जो कि सदन की गरिमा कम करने जैसा है।

दिलीप पांडे ने इस संबंध में एक प्रस्ताव पेश करते हुए मांग की कि इस मामले को दिल्ली विधानसभा की विशेषाधिकार कमेटी के पास भेजा जाए और जब तक कमेटी इस मामले पर कोई फैसला नहीं लेती, तब तक सातों भाजपा विधायकों को सदन की कार्यवाही से सस्पेंड कर दिया जाना चाहिए। इस प्रस्ताव को ध्वनि मत से पारित कर दिया गया।

इस घटनाक्रम से भाजपा विधायक सदन के फैसले के विरोध में भड़क उठे। इसके बाद स्पीकर राम निवास गोयल ने मार्शलों को सस्पेंड किए गए सातों भाजपा विधायकों को सदन से बाहर करने का आदेश दिया। 

दिल्ली विधानसभा का बजट सत्र गुरुवार को एलजी वीके सक्सेना द्वारा शिक्षा, स्वास्थ्य, परिवहन, सामाजिक कल्याण, बुनियादी ढांचे आदि के क्षेत्र में 'आप' सरकार की महत्वपूर्ण नीतियों, कार्यक्रमों और कार्यों को रेखांकित करने के साथ शुरू हुआ।

एलजी के 26 मिनट लंबे भाषण को भाजपा विधायकों के विरोध के कारण कई बार रोकना पड़ा, जिन्होंने एलजी के अभिभाषण को झूठ का पुलिंदा बताया। जहां सत्तारूढ़ 'आप' विधायकों ने एलजी के अभिभाषण के समर्थन में मेज थपथपाई, वहीं भाजपा विधायकों ने जोरदार आपत्ति जताते हुए कहा कि बयान झूठे हैं।

गौरतलब है कि. स्थापित संसदीय परंपरा के हिस्से के रूप में, एलजी नए साल में विधानसभा की पहली बैठक शुरू करने के लिए निर्वाचित सरकार द्वारा तैयार किया गया भाषण पढ़ते हैं। इस कदम के खिलाफ भाजपा विधायकों ने सदन के बाहर दिल्ली विधानसभा परिसर में विरोध प्रदर्शन किया। भाजपा विधायक विजेंद्र गुप्ता ने कहा कि सस्पेंड करना उस तानाशाही का प्रतीक है, जिसके साथ 'आप' दिल्ली विधानसभा चला रही थी। गुप्ता ने कहा कि दिल्ली विधानसभा में विपक्ष और दिल्ली के लोगों की आवाज दबाई जा रही है।

वहीं, विपक्ष के नेता रामवीर सिंह बिधूड़ी ने कहा कि भाजपा विधायकों को सस्पेंड कर दिया गया क्योंकि 'आप' सरकार उन विपक्षी विधायकों से डरी हुई है जो दिल्ली सरकार में भ्रष्टाचार का मुद्दा उठा रहे हैं और सरकार की कमियों और नाकामियों को उजागर कर रहे हैं।

बिधूड़ी ने कहा, “विपक्ष यह मुद्दा उठा रहा है कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल शराब घोटाले की जांच से बच रहे हैं क्योंकि वह इस घोटाले के मास्टरमाइंड हैं। विधानसभा सत्र को मार्च के पहले सप्ताह तक इसलिए बढ़ा दिया गया है ताकि केजरीवाल इसे एक बहाने के रूप में इस्तेमाल कर सकें और ईडी की जांच से बच सकें।'' बिधूड़ी ने कहा ने भाजपा विधायकों ने सभी मोर्चों पर सरकार की विफलता को उजागर किया।

अपने अभिभाषण के दौरान एलजी ने बिजली आपूर्ति और सार्वजनिक परिवहन के क्षेत्र में सरकार की उपलब्धियों पर भी प्रकाश डाला और कहा कि पिछले आठ वर्षों में बिजली की दरें नहीं बढ़ाई गई हैं, जबकि सभी पड़ोसी राज्यों में टैरिफ सबसे कम है। शहर में सार्वजनिक परिवहन के बारे में बोलते हुए, सक्सेना ने कहा कि 7,100 से अधिक बसें 500 रूटों पर चल रही हैं, जिनमें 1,650 इलेक्ट्रिक बसें भी शामिल हैं। एलजी ने कहा कि दिल्ली ने सरकारी बसों में महिलाओं के लिए मुफ्त यात्रा की शुरुआत की है, जो एक अरब मुफ्त यात्राओं को पार कर गई है।

एलजी ने अपने भाषण में कहा, दिल्ली ने 'आप' सरकार के तहत पिछले कुछ वर्षों में विभिन्न सामाजिक-आर्थिक क्षेत्रों में उल्लेखनीय उपलब्धियां हासिल की हैं। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें