ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRसंपत्ति के लालच में 4 चाचा बने हैवान, गोली मारकर ली भतीजे की जान; हत्यारे 3 सगे भाइयों को उम्रकैद

संपत्ति के लालच में 4 चाचा बने हैवान, गोली मारकर ली भतीजे की जान; हत्यारे 3 सगे भाइयों को उम्रकैद

ग्रेटर नोएडा के जिला न्यायालय ने दनकौर के मंडी श्याम नगर में भतीजे की गोली मारकर हत्या करने वाले तीन सगे भाइयों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। सजा पाने वाले सभी दोषी मृतक के सगे चाचा हैं।

संपत्ति के लालच में 4 चाचा बने हैवान, गोली मारकर ली भतीजे की जान; हत्यारे 3 सगे भाइयों को उम्रकैद
Praveen Sharmaग्रेटर नोएडा। हिन्दुस्तानTue, 11 Jun 2024 07:46 AM
ऐप पर पढ़ें

ग्रेटर नोएडा के जिला न्यायालय ने दनकौर के मंडी श्याम नगर में भतीजे की गोली मारकर हत्या करने वाले तीन सगे भाइयों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। सजा पाने वाले सभी दोषी मृतक के सगे चाचा हैं। इसमें एक आरोपी चाचा की केस की सुनवाई के दौरान मौत हो चुकी है। केस की सुनवाई अपर जिला जज एवं सत्र न्यायाधीश राजेश कुमार मिश्रा की अदालत ने की।

एडीजीसी अमित कुमार शर्मा ने बताया कि वर्ष 2007 में दनकौर के मंडी श्याम नगर में रहने वाले 21 वर्षीय वीरेश्वर प्रताप उर्फ पिंटू की घर में घुसकर गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। पिंटू के नाम काफी संपत्ति थी। दरअसल, जब पिंटू दो साल का था तो उसके पिता की मौत हो गई थी। संपत्ति को लेकर पिंटू का अपने चाचा हरी, हरवीर, ज्ञानी और वेद के साथ विवाद चल रहा था। इसी के चलते पिंटू की हत्या कर दी गई थी।

'दुष्कर्म में नाबालिग की मर्जी...', कोर्ट ने आरोपी शख्स को ठहराया दोषी

इस मामले में मृतक के मामा सालेक चंद्र ने आरोपी चाचाओं हरी, हरवीर, ज्ञानी और वेद के खिलाफ दनकौर कोतवाली में हत्या का मुकदमा दर्ज करवाया था। इस मामले में पुलिस ने गहनता से जांच करते हुए ठोस सबूतों के आधार पर मुकदमे को अदालत के सामने पेश किया, जिस पर कोर्ट ने फैसला सुनाते हुए तीन सगे भाइयों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। 

महिला की हत्या में पति समेत आठ पर मुकदमा

वहीं, ग्रेटर नोएडा के दनकौर स्थित डेरीन खूबन गांव में दहेज की मांग पूरी नहीं होने पर ससुरालवालों द्वारा विवाहिता को कथित तौर पर जहर देकर हत्या करने का मामला सामने आया है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है। मृतक महिला के पिता की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी पति समेत 8 लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

गाजियाबाद के निवाड़ी थाना क्षेत्र स्थित झलावा गांव के रहने वाले इस्ताक ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उनकी बेटी रुक्सार की शादी डेरीन खूबन गांव के रहने वाले मुस्तकीम के साथ 19 मार्च 2023 को हुई थी। शादी में पिता ने करीब 25 लाख रुपये खर्च किए थे। आरोप है कि इसके बावजूद भी पति समेत अन्य ससुराल वाले और दहेज के रूप में 200 वर्ग गज का प्लॉट और 10 लाख रुपये की लगातार मांग कर रहे थे। मांग पूरी ना होने पर उनकी बेटी को प्रताड़ित किया जा रहा था।

आरोप है कि करीब 6 महीने पहले भी उनकी बेटी का मुंह तकिया से दबाकर मारने का प्रयास किया गया था, लेकिन वह किसी तरह बच गई थी। रविवार की रात साढ़े 10 बजे उनकी बेटी ने फोन पर सूचना दी कि उनके ससुरालीजन जान से मारने की योजना बना रहे हैं। उनका कहना है कि सोमवार की सुबह जानकारी हुई कि उनकी बेटी को जहर देकर मार दिया गया है। पीड़ित पिता में अपनी बेटी की मौत का जिम्मेदार उसके पति मुस्तकीम, सास तमसीरन, ससुर मलखान, जेठ सलमान और शाहरूख, राशिद देवर और ननद भूरी समेत 8 लोगों को ठहराया है।