DA Image
8 अगस्त, 2020|3:06|IST

अगली स्टोरी

दिल्ली में कोरोना की कमर तोड़ने को निजी लैब ने बढ़ाई टेस्ट की रफ्तार, 20 मिनट की ड्राइव-थ्रू कोरोना टेस्ट सुविधा में की वृद्धि

covid-19 drive thru

दिल्ली में तेजी से बढ़ रहे COVID-19 के मामलों को देखते हुए उपराज्यपाल अनिल बैजल और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की अगुवाई वाली सरकार द्वारा ने नए प्रोटोकॉल की शुरुआत करते हुए COVID टेस्ट की रफ्तार बढ़ा दी है। दिल्ली की सरकारी और निजी लैस ने भी कोरोना वायरस के खिलाफ इस लड़ाई में सहायता के लिए अपने काम को बढ़ाया है।

दिल्ली में ऐसी ही एक निजी लैब ने COVID-19 टेस्ट के लिए अतिरिक्त ड्राइव-थ्रू सैंपल कलेक्शन सेंटर्स की स्थापना करके अपनी टेस्ट सुविधाओं में वृद्धि की है।

डॉ. डैंग्स लैब ने कोरोना के खिलाफ लड़ाई को आगे बढ़ाने के लिए पंजाबी बाग और साकेत में अपनी सुविधाओं की मदद से लगभग 3,000 सैंपल एकत्र करने के बाद राजधानी के सिरी फोर्ट ऑडिटोरियम के पास एक और सेंटर खोला है।

एएनआई से बात करते हुए, डॉ. डैंग्स लैब के सीईओ डॉ. अर्जुन डैंग ने कहा कि दिल्ली-एनसीआर में कोरोना के केस बढ़ने के कारण, हमने ड्राइव-थ्रू टेस्ट की इस नई पहल की शुरुआत की और अब हमने अपना तीसरा सेंटर स्थापित किया है। आत जक हमने 3,000 के करीब आरटी-पीसीआर टेस्ट किए हैं, जिसके लिए इन सेंटर्स पर सैंपल पर एकत्र किए गए हैं। यह नई पहल मामलों की बढ़ती संख्या को ध्यान में रखते हुए और टेस्ट की मांग में वृद्धि को ध्यान में रखते हुए की गई थी। कोरोना के हल्के या मध्यम लक्षणों वाला कोई भी व्यक्ति इस ड्राइव-थ्रू सेंटर पर अपना टेस्ट करवा सकता है।  

ड्राइव-थ्रू कलेक्शन का यह विचार पहली बार वायरस की चपेट में आए देशों में देखा गया था, जैसे कि दक्षिण कोरिया और अब भारत में भी इसे काम करते हुए देखा जा रहा है। डैंग ने कहा कि हमें न केवल बुकिंग के बारे में, बल्कि टेस्ट में आसानी और सुरक्षा उपायों के बारे में भी मरीजों से अच्छी प्रतिक्रिया मिली है। 

सेंटर में संक्रमण नियंत्रण उपायों के संबंध में डैंग ने दोहराया कि उनकी सेंटर सभी आईसीएमआर दिशानिर्देशों के अनुरूप हैं। इसके साथ ही इस पूरी प्रक्रिया के दौरान चिकित्सा कर्मचारियों और रोगियों के बीच कम से कम बातचीत होती है। इसके अलावा, मरीजों को सेंटर में टेस्ट के लिए ज्यादा समय नहीं देना पड़ता है।

उन्होंने कहा कि टेस्ट के लिए प्रत्येक वाहन को 20 मिनट का टाइम स्लॉट आवंटित किया जाता है, लेकिन पूरी सैंपल कलेक्शन प्रक्रिया 6-7 मिनट से अधिक समय नहीं लगता है। हमने भीड़भाड़ और जल्दबाजी से बचने के लिए एक अतिरिक्त समय अवधि रखी है। इसके अलावा, हमारे पास सैनिटाइज करने के लिए भी पर्याप्त समय रहता है।  

डैंग ने इस नई पहल की सफलता के लिए स्थानीय अधिकारियों, दिल्ली सरकार और यहां के लोगों को धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि मैं स्थानीय अधिकारियों, दिल्ली सरकार और केंद्र का बहुत आभारी हूं। सबसे महत्वपूर्ण बात, मैं अपने समुदाय और निवासियों का शुक्रगुजार हूं, जो इस पहल में अत्यधिक सहयोगी और मददगार रहे हैं। उनके सहयोग के बिना, यह सफल नहीं होती।

जो लोग टेस्ट करवाना चाहते हैं, वो www.drdangslab.com पर सुबह 11 बजे से 1 बजे के बीच रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं, जहां उन्हें आवश्यक दस्तावेज जमा करने होते हैं और सैंपल कलेक्शन के 24-36 घंटों के भीतर रिपोर्ट उन्हें ईमेल कर दी जाती है। टेस्ट 2400 रुपये की सरकारी तय दर पर ही किया जा रहा है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:20 minute drive-through COVID testing facilities increased in Delhi private labs scale-up testing