ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCRबूंद-बूंद पानी को तरसती दिल्ली में नहाने के विवाद में 2 लोगों का कत्ल, कहीं दनादन चलीं गोलियां

बूंद-बूंद पानी को तरसती दिल्ली में नहाने के विवाद में 2 लोगों का कत्ल, कहीं दनादन चलीं गोलियां

राजधानी दिल्ली के अशोक विहार स्थित जेलर वाला बाग इलाके में कथित तौर पर स्विमिंग पूल में नहाने को लेकर हुए विवाद में शुक्रवार देर रात नाबालिग समेत दो लोगों की चाकू से गोदकर हत्या कर दी गई।

बूंद-बूंद पानी को तरसती दिल्ली में नहाने के विवाद में 2 लोगों का कत्ल, कहीं दनादन चलीं गोलियां
Praveen Sharmaनई दिल्ली। हिन्दुस्तानSun, 23 Jun 2024 08:05 AM
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली के अशोक विहार स्थित जेलर वाला बाग इलाके में स्विमिंग पूल में नहाने को लेकर हुए विवाद में शुक्रवार देर रात नाबालिग समेत दो लोगों की चाकू से गोदकर हत्या कर दी गई। पुलिस ने हत्या समेत अन्य धाराओं में केस दर्ज कर पूछताछ के लिए छह युवकों को हिरासत में लिया है। प्रारंभिक जांच में सामने आया है कि करीब एक सप्ताह पहले स्विमिंग पुल में हुए झगड़े को लेकर दोनों पक्षों में विवाद चल रहा था। मृतकों में 17 वर्षीय विपुल और 18 वर्षीय विशाल शामिल हैं।

जानकारी के मुताबिक, 17 वर्षीय विपुल उर्फ साहिल परिवार के साथ वजीरपुर की चंद्रशेखर आजाद जेजे कॉलोनी के सी ब्लॉक की गली नंबर 6 में रहता था। उसका परिवार मूल रूप से यूपी के आजमगढ़ का रहने वाला है। विपुल के पिता राजाराम ने बताया कि विपुल ने नौवीं कक्षा तक पढ़ाई की थी। एक माह पहले तक वह एक फैक्ट्री में काम करता था, लेकिन कुछ दिन से काम नहीं कर रहा था। शुक्रवार रात घर के सभी सदस्य सो गए थे। इस बीच पड़ोसी विशाल उसे बुलाकर ले गया। सुबह करीब 3 बजे एक पड़ोसी ने बताया कि किसी ने विपुल को चाकू मार दिया है। यह सुनते ही परिजनों के पैरों तले जमीन खिसक गई।

उधर, पड़ोस में रहने वाले 18 वर्षीय विशाल के घर में भी मातम पसरा हुआ है। उसका परिवार मूल रूप यूपी के जिला मऊ का रहने वाला है। वह परिवार के साथ डी ब्लॉक में रहता था। घर में पिता अशोक कुमार, माता मुन्नी देवी और बड़ा भाई बिट्टू हैं। अशोक ने बताया कि विशाल एक फैक्ट्री में काम करता था। बड़े भाई बिटटू ने बताया कि रात करीब 10 बजे सभी विशाल को खाना खाकर सो जाने की बोलकर छत पर चले गए थे। इस बीच रात करीब रात करीब साढ़े 10 बजे विशाल के पास किसी का फोन आया था, जिसके बाद वह घर से चला गया। इसके बाद पता चला कि नहर से करीब 500 मीटर दूर संकरी गली में विशाल और विपुल की हत्या कर दी गई है।

खूनी झड़प हुई थी

शुक्रवार रात विपुल और विशाल अपने दो-तीन दोस्तों को लेकर दूसरे पक्ष के दो भाइयों अनुज और सूरज के घर पर हमला करने गए थे। सूरज ने भी अपने दोस्तों को बुला लिया था। वहां दोनों पक्षों में खूनी झड़प हुई। इसमें विपुल और विशाल गंभीर रूप से घायल हो गए थे।

परिजनों ने कहा, नशा बेचने के विरोध पर कहासुनी

विशाल के भाई बिट्टू का आरोप है कि एरिया में बड़े पैमाने पर स्मैक और गांजा बेचने कर अवैध धंधा चल रहा है। इसमें इलाके के कुछ लोग शामिल हैं। ये इस अवैध धंधे को नाबालिगों के जरिये चलाते हैं। घर के सामने नशे की खरीद-फरोख्त पर विशाल ने टोका था, जिसकी वजह से विवाद हुआ था। इसी कारण आरोपियों ने हत्या को अंजाम दिया। दोनों को कमरे में बंधक बनाकर मारा गया।

पानी सप्लाई को लेकर गोलियां चलीं

वहीं, दिल्ली के ही जामिया नगर इलाके में 21 जून की रात पानी को लेकर दो गुटों में झगड़ा हो गया। इसमें चार लोग घायल हो गए हैं। दोनों पक्षों ने एक दूसरे पर फायरिंग की है। इस मामले में पुलिस ने केस दर्ज कर मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस उपायुक्त राजेश देव ने बताया कि 46 वर्षीय अदीब अपने परिवार के साथ हाजी कॉलोनी में रहता है। अदीब का हाजी कॉलोनी में ही आरओ प्लांट है। वह जामिया कॉलोनी में पानी की सप्लाई करता है, जबकि कुछ दिन पहले ही हाजी कॉलोनी में रहने वाले आलम ने भी आरओ प्लांट खोला है। आलम भी जामिया इलाके में पानी की सप्लाई करता है। 21 जून की रात करीब 9 बजे अदीब और आलम के बीच झगड़ा हो गया। झगड़े के बीच दोनों के परिवार वाले भी आ गए। दोनों पक्षों के बीच मारपीट हो गई। मारपीट के दौरान अदीब और सहने आलम ने फायरिंग शुरू कर दी। स्थानीय लोगों का कहना है कि दोनों पक्षों की ओर से करीब 13 राउंड फायरिंग हुई है।