DA Image
हिंदी न्यूज़ › NCR › किसानों से टकराव: 83 पुलिसकर्मियों समेत 104 घायल, आईटीओ पर सबसे ज्यादा जख्मी
एनसीआर

किसानों से टकराव: 83 पुलिसकर्मियों समेत 104 घायल, आईटीओ पर सबसे ज्यादा जख्मी

नई दिल्ली वरिष्ठ संवाददाताPublished By: Yogesh Yadav
Tue, 26 Jan 2021 10:45 PM
किसानों से टकराव: 83 पुलिसकर्मियों समेत 104 घायल, आईटीओ पर सबसे ज्यादा जख्मी

किसानों की ट्रैक्टर परेड के दौरान हुए टकराव के दौरान 104 लोग घायल हुए हैं। इनमें 83 पुलिसकर्मी शामिल हैं। सभी घायलों को विभिन्न अस्पतालों में भर्ती किया गया है। अस्पताल में भर्ती एक किसान की मौत हो गई। जबकि दो पुलिसकर्मियों की स्थिति गंभीर बनी हुई है। घायल हुए ज्यादातर लोगों को उपचार के बाद घर भेज दिया गया है। 

आईटीओ पर सबसे ज्यादा झड़पें हुई हैं। यहां एक किसान की मौत भी हो गई। मंगलवार को दोपहर करीब 1 बजे जैसे ही आईटीओ के आसपास किसान पहुंचे पुलिस ने उन्हें रोकने की कोशिश की। इस दौरान हुए टकराव में सबसे अधिक घायल हुए। इन सभी को लोकनायक अस्पताल में भर्ती कराया गया। ज्यादातर लोगों को हाथ में चोट, पैर में फ्रैक्चर, सिर में चोट, कान में चोट है। इन सभी का एक्सरे करने के बाद इलाज किया जा रहा है। 

लोकनायक में 19 का इलाज
लोकनायक अस्पताल में 19 घायल पहुंचे। इसमें 8 पुलिसकर्मी और 11 किसान थे। देर शाम तक इलाज के बाद 4 पुलिस वालों को अस्पताल से छुट्टी मिल गई है। स्वामी दयानंद अस्पताल में भी घायल होकर 5 लोगों को इमरजेंसी में भर्ती किया गया था। इन्हें हल्की चोट लगी थी। इलाज के बाद इन सभी पांच लोगों को देर शाम छुट्टी मिल गई।

 स्वामी दयानंद अस्पताल में इलाज के लिए पहुंचे सभी पांचों घायल पुलिस वाले थे। इसमें चार को लालकिले पर डयूटी के दौरान चोट लगी थी। एक पुलिस वाले को झिलमिल से स्वामी दयानंद अस्पताल में ले जाया गया था, वह अपने आप बेहोश हो गया था।

किसान के हाथ में आंसू गैस का गोला फटा
लोकनायक पहुंचे घायलों में एक किसान का हाथ बुरी तरह से जख्मी हो गया है। अस्पताल सूत्रों का कहना है कि उसके हाथ में आंसू गैस का गोला फट गया था। हालांकि, डॉक्टर ने कहा कि अभी तक किसी की सर्जरी करने की नौबत नहीं है, किसी को गम्भीर चोट नहीं पहुंची है।

83 पुलिसकर्मियों में दो गंभीर
किसानों के उग्र प्रदर्शन में 83 पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। इसमें दो की हालत गम्भीर है। दिल्ली पुलिस के प्रवक्ता ने बताया कि किसान आंदोलनकारियों ने लाल किला परिसर में पुलिसकर्मियों पर तलवार और लाठी डंडों से हमला कर दिया था। इस घटना में पुलिसकर्मियों और सुरक्षा बलों ने 20 फीट गहरी खाई में कूदकर अपनी जान बचाई। यहां 41 पुलिसकर्मी घायल हुए। इसमें चार महिलाएं भी शामिल हैं। इसके अलावा गाजीपुर बार्डर पर किसानों से संघर्ष में 34 पुलिसकर्मी घायल हुए। किसानों ने एडिशनल डीसीपी और प्रशिक्षु एसीपी पर ट्रैक्टर तक चढ़ाने की कोशिश की।

नांगलोई में घायल हुए 10 लोग
नांगलोई में हुई झड़प में 10 लोग घायल हुए। इसमें तीन पुलिसकर्मी शामिल थे। एक पुलिसकर्मी पर तलावार जैसे तेज धार हथियार से हमला किया गया। इन सभी घायलों को नजदीकी अस्पताल में भर्ती किया गया। जहां से उपचार के बाद उन्हें घर भेज दिया गया।

संबंधित खबरें