yogendra yadav supported amarpali buyers - योगेंद्र यादव ने आम्रपाली के खरीदारों को दिया समर्थन DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

योगेंद्र यादव ने आम्रपाली के खरीदारों को दिया समर्थन

योगेंद्र यादव ने आम्रपाली के खरीदारों को दिया समर्थन

स्वराज इंडिया के संस्थापक योगेंद्र यादव ने मंगलवार को नोएडा पहुंचकर सेक्टर-62 में धरने पर बैठे आम्रपाली परियोजना के खरीदारों का समर्थन किया। उन्होंने कहा कि खरीदारों के इस हालत तक पहुंचने की जिम्मेदार सरकार है। खरीदारों को ठगने के लिए बिल्डर, अधिकारी, नेता एक गिरोह बनाकर काम कर रहे हैं। परियोजनाओं में काम बंद होने के विरोध में खरीदार सेक्टर-62 स्थित कारपोरेट ऑफिस के सामने खरीदार भूख हड़ताल पर बैठे हैं। मंगलवार को भूख हड़ताल का चौथा दिन था। मंगलवार दोपहर डेढ़ बजे धरना स्थल पर पहुंचे योगेंद्र यादव ने खरीदारों को समर्थन देते हुए कहा कि आपकी हर कदम पर मदद करूंगा। सरकार को चाहिए कि बिल्डरों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करे। करीब डेढ़ घंटे तक धरना स्थल पर रुककर उन्होंने कई खरीदारों से व्यक्तिगत बातचीत भी की। खरीदारों ने आम्रपाली ग्रुप के चेयरमैन अनिल शर्मा की शव यात्रा निकाली। छुट्टी होने के कारण 700 से ज्यादा लोग पहुंचे धरने पर बैठे खरीदार केके भास्कर ने बताया कि मांगे नहीं माने तक धरना जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि रोजाना बदलकर लोग भूख हड़ताल पर बैठ रहे हैं। उन्होंने बताया कि मंगलवार को 700 से ज्यादा लोग धरना स्थल पर पहुंचे। आम्रपाली की सभी परियोजनाओं के साथ-साथ अन्य बिल्डरों के खरीदारों का भी समर्थन मिल रहा है। जेपी के खरीदारों ने समर्थन दिया जेपी परियोजनाओं के खरीदारों ने मंगलवार को धरना स्थल पर पहुंचकर आम्रपाली के खरीदारों का समर्थन किया। जेपी और आम्रपाली बिल्डरों से परेशान खरीदारों ने कहा कि अब मिलकर लड़ाई लड़ी जाएगी। अधिकारी-नेताओं के पास मिलने की फुर्सत नहीं खरीदारों का कहना है कि चार दिन बाद भी बिल्डर के साथ-साथ प्राधिकरण, प्रशासन का कोई भी अधिकारी बातचीत के लिए नहीं पहुंचा है। उन्होंने कहा केंद्र और प्रदेश में भाजपा सरकार है। दोनों ही जगह से कोई नेता भी नहीं आया। चुनाव से पहले भाजपा के नेताओं ने बड़े-बड़े दावे किए थे, हर किसी को जल्दी घर दिलाया जाएगा। अब बातचीत तक के लिए नही आ रहे हैं।

जनप्रतिनिधियों से नहीं मिली मदद तो सुप्रीम कोर्ट जाएंगे

 जेपी ग्रुप की परियोजनाओं के खरीदारों ने मंगलवार को सेक्टर-15ए स्थित पार्क में बैठक की। बैठक में तय किया गया कि पहले जनप्रतिनिधियों से मदद मांगी जाएगी। अगर वे नहीं करते हैं तो सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया जाएगा। पार्क में करीब 500 खरीदार इकट्ठा हुए। बैठक में कैसे न्याय मिलेगा, इसको लेकर चर्चा हुई। जेपी अमन फ्लैट खरीदार एसोसिएशन के अध्यक्ष एसके नागराथ ने बताया कि पहले हम जनप्रतिनिधियों से मिलकर इस मामले को विधानसभा में उठाने की मांग करेंगे। पंकज सिंह और तेजपाल नागर के साथ-साथ केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा से भी मिलेंगे। इसके अलावा प्राधिकरण के सीईओ अमित मोहन से भी मिलकर मांग करेंगे कि जेपी की परियोजनाओं में काम बंद न हो।

 एनसीआर के खरीदारों को जोड़कर बिल्डरों के खिलाफ लड़ेंगे खरीदार

खरीदार देवेंद्र यादव ने बताया कि अब एनसीआर के खरीदारों को एकजुटकर कर बिल्डरों के खिलाफ लड़ाई लड़ी जाएगी। इसके अलावा नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल की ओर से दिए गए फॉर्म सी को भरने को लेकर भी लगभग सहमति बन गई है, हालांकि अभी इसको लेकर वरिष्ठ वकीलों से सलाह ली जा रही है। उन्होंने कहा कि सेक्टर-128 में प्रदर्शन वाले दिन विधायक पंकज सिंह ने पहुंचकर सरकार से जल्द मदद करवाने का आश्वासन दिया था, लेकिन अभी तक कुछ नहीं हुआ है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:yogendra yadav supported amarpali buyers