DA Image
हिंदी न्यूज़ › NCR › नोएडा › परिवार पर हुए हमले में तीन गिरफ्तार
नोएडा

परिवार पर हुए हमले में तीन गिरफ्तार

हिन्दुस्तान टीम,नोएडाPublished By: Newswrap
Mon, 11 Oct 2021 08:40 PM
परिवार पर हुए हमले में तीन गिरफ्तार

रबूपुरा। संवाददाता

कानपुर गांव में दबंगों द्वारा परिवार पर किए गए हमले के मामले में पुलिस ने तीन युवकों को गिरफ्तार किया है। भीम आर्मी के समर्थकों की बैठक के बाद डीजे बजाने को लेकर यह हमला हुआ था। पुलिस ने इस मामले में 10 नामजद और कुछ अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस की तीन टीमें अन्य आरोपियों की तलाश में दबिश दे रही हैं। पीड़ित पक्ष के लोगों में घटना को लेकर आक्रोश है।

रबूपुरा कोतवाली क्षेत्र के गांव कानपुर में रविवार को किशोर ललित और गांव के दबंग विकास ठाकुर के बीच कहासुनी हो गई थी। लोगों ने बीचबचाव कर मामला रफा-दफा कर दिया था। पुलिस के मुताबिक दोपहर में भीम आर्मी के समर्थकों की बैठक हुई थी। बैठक के बाद डीजे बजाने को लेकर विवाद हुआ था। जबकि पीड़ितों का कहना है कि बैठक में ललित का भाई उमेश भी शामिल हुआ था। विकास और गांव के अन्य लोग इससे नाराज हो गए। आरोप है कि लाठी-डंडों और धारदार हथियारों से लैश 25-30 लोगों ने ललित के पिता रामविलास के घर में घुसकर परिवार के सदस्यों और भीम आर्मी के कार्यकर्ताओं पर हमला बोल दिया। आरोपियों ने घर में तोड़फोड़ की और वहां मौजूद सभी लोगों की पिटाई की। आरोप है कि घर की महिलाओं के साथ भी मारपीट की गई। उनके कानों से कुंडल आदि लूट लिए गए। जान बचाकर वहां से भागने की कोशिश कर रहे लोगों को आरोपियों ने दौड़ा दौड़ाकर पीटा। इस दौरान फायरिंग करने का भी है।

इस हमले में उमेश और रितिक पुत्र रामविलास, राजरानी समेत सात लोग घायल हो गए। घटना के करीब दो घंटे बाद पहुंची पुलिस ने घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया। हालत गंभीर होने पर उमेश और रितिक को दिल्ली एम्स रेफर कर दिया गया। उनकी हालत गंभीर बनी हुई है। भीम आर्मी कार्यकर्ता बच्चन की शिकायत पर पुलिस ने 10 नामजद और कुछ अज्ञात लोगों के खिलाफ गम्भीर धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस ने तीन आरोपियों राजकुमार शर्मा, मनीष कुमार और सुमित सिंह को गिरफ्तार किया है। पुलिस की टीमें अन्य आरोपियों की तलाश में दबिश दे रही हैं।

---------

कानपुर गांव के आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए तीन टीमें गठित की गई हैं। तीनों टीमें दबिश दे रही हैं। सभी आरोपियों को जल्द गिरफ्तार किया जाएगा। किसी भी दोषी को बख्शा नहीं जाएगा।

रुद्र प्रताप, एसीपी, जेवर

संबंधित खबरें