अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फ्लैटों की रजिस्ट्री के लिए समय सीमा बढ़ेगी

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण में रजिस्ट्री कराने के लिए फ्लैट खरीदारों को और अधिक समय मिलेगा। इसके लिए प्राधिकरण आगामी बोर्ड बैठक में एक प्रस्ताव लाएगा। इस प्रस्ताव के पास होने के बाद खरीदारों को 2 से 3 महीने का अतिरिक्त समय मिल सकेगा।ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण बिल्डर को पूर्णता प्रमाण पत्र जारी करता है। इस प्रमाण पत्र के जारी होने के बाद खरीदार को एक साल के भीतर रजिस्ट्री कराना जरूरी होता है। अगर इसके बाद रजिस्ट्री नहीं कराई तो प्राधिकरण जुर्माना लगाता है। पूर्णता प्रमाण पत्र मिलने के बाद बिल्डर को लीज डीड (रजिस्ट्री) कराने की अनुमति लेनी पड़ती है। बिल्डर को इस प्रक्रिया को पूरा करने में 2 से 3 महीने का समय लग जाता है। अगर बिल्डर पर बकाया है तो कई बार साल भर का समय लग जाता है। बिल्डर की इस लापरवाही का खामियाजा खरीदार को भुगतना पड़ता है। उसे रजिस्ट्री कराते समय जुर्माना देना पड़ता है। भारी भरकम जुर्माना देना पड़ता हैजीएम प्रॉपर्टी आरके देव ने बताया कि रजिस्ट्री में देरी होने पर जुर्माना हर योजना में अलग-अलग होता है। किसी प्रोजेक्ट में रजिस्ट्री का समय एक साल का दिया जाता तो किसी में 6 महीने का। प्रोजेक्ट के हिसाब से जुर्माना तय किया जाता है। प्राधिकरण के पास पहुंच रही हैं शिकायतेंग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के पास खरीदार इस तरह की शिकायतें लेकर पहुंच रहे हैं। उनका कहना है कि बिल्डर की देरी के चलते जुर्माना उन्हें भी भरना पड़ता है। सोमवार को भी एसीईओ बालकृष्ण के पास एक शिकायत आई। इसमें बिल्डर ने पूर्णता प्रमाणपत्र लेने के छह महीने बाद लीज डीड की अनुमति ली है। उपभोक्ताओं को छह महीने का समय बिल्डर की वजह से चला गया। अब मिलेगी खरीदारों को छूटप्राधिकरण ने आगामी बोर्ड बैठक में एक प्रस्ताव लेकर जाएगा। प्रस्ताव में यह प्रावधान किया जाएगा कि बिल्डर को लीज डीड की अनुमति मिलने के बाद खरीदार को एक साल के भीतर रजिस्ट्री करानी होगी। अभी तक पूर्णता प्रमाण पत्र मिलने के बाद यह समय सीमा शुरू हो जाती है। ऐसे में खरीदारों को राहत मिलेगी।ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण की बोर्ड बैठक में रजिस्ट्री कराने की समय सीमा को लेकर प्रस्ताव रखेंगे। इसमें प्रावधान किया जाएगा कि खरीदार को रजिस्ट्री कराने का समय लीज डीड की अनुमति मिलने के बाद शुरू होगी। इससे खरीदारों को फायदा मिलेगा।बालकृष्ण त्रिपाठी, एसीईओ, ग्रेनो प्राधिकरण

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:The deadline for the flats registry will increase