DA Image
हिंदी न्यूज़ › NCR › नोएडा › जलभराव होने पर दो अफसरों के निलंबन की सिफारिश, ठेकेदार पर जुर्माना
नोएडा

जलभराव होने पर दो अफसरों के निलंबन की सिफारिश, ठेकेदार पर जुर्माना

हिन्दुस्तान टीम,नोएडाPublished By: Newswrap
Thu, 29 Jul 2021 03:00 AM
जलभराव होने पर दो अफसरों के निलंबन की सिफारिश, ठेकेदार पर जुर्माना

ग्रेटर नोएडा। वरिष्ठ संवाददाता

दादरी सूरजपुर छलेरा (डीएससी) रोड पर मंगलवार और बुधवार को बारिश का पानी भरने के मामले में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने सख्त कार्रवाई की है। इस इलाके में काम करने वाले ठेकेदार को ब्लैकलिस्ट कर पांच लाख का जुर्माना लगाया गया है। इसके अलावा एक वरिष्ठ प्रबंधक और एक प्रबंधक को निलंबित करने के लिए शासन को अपनी संस्तुति भेजी है।

बारिश के बाद मंगलवार को कुलेसरा पुल से ग्रेटर नोएडा की तरफ डीएससी रोड पर पानी भर गया था। सड़क नाले जैसी नजर आने लगी थी। यातायात जाम होने से पुलिसकर्मियों को पानी में उतरकर हालात सामान्य करने पड़े थे। बुधवार सुबह को भी बारिश होने से इस रोड पर पानी भर गया। हालत का जायजा लेने के लिए प्राधिकरण के सीईओ नरेंद्र भूषण मौके पर पहुंचे। जलभराव देखकर सीईओ ने संबंधित ठेकेदार को ब्लैकलिस्ट कर दिया। साथ ही, उस पर पांच लाख रुपये का जुर्माना लगाया। सीईओ ने लापरवाही बरतने पर वरिष्ठ प्रबंधक एनके जैन और प्रबंधक अजय राय के निलंबन की संस्तुति शासन को भेज दी। प्राधिकरण के सीईओ ने समस्या के समाधान के लिए 24 घंटे में प्रस्ताव देने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने सभी ज़ोन के प्रभारी अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे अपने क्षेत्र में भ्रमण करें और जलभराव हो तो उसे दूर करें।

यहां करें शिकायत

प्राधिकरण के सीईओ ने आम लोगों से अपील की कि अगर कहीं जलभराव दिखे तो इसकी सूचना प्राधिकरण के दूरभाष नंबर 0120-2336046, 47, 48 व 49 पर फोन करके दे सकते हैं। व्हाट्सएप नंबर 8800203912 पर संपर्क कर सकते हैं।

-----------

कार्यमुक्त किया

शासन ने नोएडा, ग्रेटर नोएडा, यमुना प्राधिकरण और यूपीसीडा के अधिकारियों के लिए अंतिम चेतावनी जारी की है। अगर नई तैनाती पर तत्काल पदभार नहीं संभाला तो ऐसे अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण में फरवरी में अनिल कुमार जौहरी, प्रवीण सलोनिया, कपिलदेव सिंह, गुरविंदर सिंह व रविंदर कुमार का स्थानांतरण हो गया था। अभी तक यह लोग नई तैनाती पर नहीं गए हैं। शासन ने इन सभी को स्वतः कार्यमुक्त कर नई पोस्टिंग पर तत्काल जाने के निर्देश दिए हैं।

संबंधित खबरें