DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आचार्य बालकृष्ण का फर्जी फेसबुक पेज बनाकर लड़कियों को ठगने वाला गिरफ्तार

आचार्य बालकृष्ण

पतंजलि के प्रबंध निदेशक आचार्य बाल कृष्ण के नाम से फर्जी फेसबुक आईडी बनाकर लड़कियों को फंसा ठगी करने वाले को सेक्टर-20 पुलिस ने शनिवार को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी ने फेसबुक पर योग गुरु बाबा रामदेव और आचार्य बालकृष्ण पर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। पुलिस ने आरोपी को न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया है। 

एसएचओ मनीष सक्सेना ने बताया कि आरोपी ने आचार्य बालकृष्ण के नाम और फोटो के साथ फर्जी फेसबुक अकाउंट बना रखा था। इस अकाउंट से बाब रामदेव और आचार्य बाल कृष्ण के आनुयायी जुड़े थे। आरोपी उनके आनुयायियों से चैट कर अभद्र भाषा का इस्तेमाल करता था। विरोध करने पर अनुयायियों के साथ गाली-गलौज करता था। इससे लोगों की भावनाओं को ठेस पहुंच रही थी। इसको लेकर 4 जुलाई को सेक्टर-5 स्थित वैदिक ब्राडकास्टिंग लिमिटेड के सीईओ प्रमोद जोशी ने थाना सेक्टर-20 में अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज कराया था। इस पर पुलिस ने शनिवार को मुखबिर की सूचना पर सेक्टर-10 से आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। उसकी पहचान मोहम्मद जिशान निवासी चिकलाना जिला सहारनुपर के रूप में हुई है।

पुलिस की पूछताछ में आरोपी ने बताया कि उसने यह फेसबुक आईडी लड़कियों को फंसाने के लिए बनाई थी। वह खुद को आचार्य बालकृष्ण बताते हुए लड़कियों को पतंजलि में नौकरी दिलाने और पतंजलि के अधिकारियों के साथ संबंध बनाने के बदले में मोटी रकम दिलाने का लालच देता था। आरोपी लड़कियों से फीस के तौर अपने बैंक खाते में रकम जमा करा लेता था। 

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम : CBI ने ब्रजेश ठाकुर के बेटे को हिरासत में लिया

12 से अधिक वारदात कबूलीं
पुलिस के अनुसार आरोपी ने अब तक 12 से अधिक लड़कियों को फंसाकर उनके साथ ठगी करने की वारदात को कुबूल किया है। ठगी करने के बाद आरोपी पीड़ित लड़कियों के अकाउंट को अपने खोते से रद्द कर देता था। आरोपी पुलिस से बचने के लिए बार-बार अपना ठिकाना बदल रहा था। 

आनुयायियों ने शिकायत की थी
आरोपी द्वारा आचार्य बालकृष्ण और बाबा रामदेव पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने पर उनके अनुयायियों में भारी रोष था। इसकी शिकायत अनुयायियों ने बाबा रामदेव और आचार्य बालकृष्ण से की थी। इसके बाद पुलिस पर आरोपी को पकड़ने के लिए काफी दबाव था।

किसी को जानबूझकर बदनाम करना ठीक नहीं है। इस साजिश के पीछे जो लोग हैं, वह भी पकड़े जाने चाहिए। आरोपी के पकड़ने पर नोएडा पुलिस का धन्यवाद। 
-एसके तिजारा वाला, प्रवक्ता, पतंजलि

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Police arrested holder of acharya balkrishna fake Facebook page