DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रेलवे में नौकरी के नाम पर पांच युवकों से 3 लाख रुपये ठगे

रेलवे में नौकरी दिलाने के नाम पर एक ही परिवार के पांच युवकों से 3 लाख रुपये की ठगी करने का मामला सामने आया है। रविवार को पांचों युवकों ने कोतवाली सेक्टर-20 में शिकायत की। लेकिन पुलिस ने कार्रवाई करने की बजाय युवकों को थाने से टरका दिया। बागपत निवासी कमलेश कुमार और राहुल दोनों चचेरे भाई हैं। उच्च शिक्षा प्राप्त करने के बाद दोनों नौकरी की तलाश कर रहे थे। उन्होंने मई माह में रेलवे में नौकरी दिलाने का एक विज्ञापन देखा। राहुल ने विज्ञापन पर लिखे नंबर पर फोन किया तो अवधेश सिंह नामक व्यक्ति ने फोन उठाया। उसने अच्छे पद नौकरी लगवाने का झांसा देकर पढ़ाई के तमाम कागजात लाने के लिए कहा। कमलेश ने बताया कि उन्होंने अपने गाजियाबाद में रहने वाले ममेरे भाई सचिन, बुआ के बेटे पवन और एक चचेरे भाई अंकुर को भी रेलवे में नौकरी के बारे में बताया। ये तीनों भी नौकरी के लिए तैयार हो गए। 14 मई को उसने अवधेश को फोन कर पांच लोगों की नौकरी लगवाने को कहा। अवधेश ने योग्यता के अनुसार रेलवे के अलग-अगल विभाग में नौकरी लगवाने का दावा किया। आरोपी ने बदले में पांचों युवकों से 50-50 हजार रुपये की मांग की। इसके अलावा आरोपी ने पांचों का फॅाइल चार्ज के रूप में एक लाख रुपये अलग से बताए। आरोपी ने 23 मई को पांचों को सेक्टर-15 नया बांस स्थित एक कमरे पर बुलाया। वहां आरोपी उनसे पढ़ाई के कागजात और 3 लाख रुपये ले लिए। आरोपी ने उन्हें एक माह में उनकी ट्रेनिंग कराने और नियुक्ति दिलाने का झांसा दिया। जब दो माह बाद भी नौकरी नहीं लगी तो पीड़ितों ने बांस स्थित उसका कमरे पर गए। मगर वहां ताला लगा हुआ था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:People embracing in Noida, scattered from family