DA Image
5 मार्च, 2021|12:14|IST

अगली स्टोरी

कूड़ा प्रबंधन न करने पर जुर्माना

default image

नोएडा। ठोस कचरा प्रबंधन 2016 के तहत नियमों का पालन नहीं करने पर सोमवार को नोएडा प्राधिकरण ने अलग-अलग प्रतिष्ठानों पर सवा दो लाख रुपये का जुर्माना लगाया। प्राधिकरण ने ये कार्रवाई सेक्टर-18 में की। नियम के तहत परिसर के अंदर गीले व सूखे कूड़े का पृथक्करण करना व गीले कूड़े की प्रोसेसिंग करना अनिवार्य है।

नोएडा प्राधिकरण के ओएसडी इंदु प्रकाश व सहायक प्रबंधक गौरव बंसल के नेतृत्व में टीम ने सोमवार को सेक्टर-18 में जाकर जांच की। सबसे पहले टीम जांच करने इक्यूटस बैंक पहुंची। यहां सड़क पर फैलाया जा रहा था। ऐसे में इस पर 25 हजार रुपये का जुर्माना लगाया। ओएसडी ने बताया कि मैकडॉनल्ड फैमिली रेस्टोरेंट में कूड़े का निस्तारण या प्रोसेसिंग का कोई प्रावधान नहीं पाया गया। इसके अलावा कूड़ा निर्धारित वेंडर को न देकर अनाधिकृत कबाड़ी को दिया जा रहा था। इस प्रतिष्ठान में ईटीपी भी काम नहीं कर रहा था। ऐसे में इस पर 75 हजार रुपये का जुर्माना लगाया है। मेट्रिक्स प्लेटफॉर्म प्राइवेट लिमिटेड यूनिट में फूड डिलीविरी रेस्टोरेंट चलाया जा रहा था। यहां काफी मात्रा में सिंगल यूज प्लास्टिक के बैग पाए गए। सूखा-गीला कूड़ा मिक्स पाया गया। इसके अलावा अन्य कमियां भी मिलने पर एक लाख रुपये का जुर्माना लगाया गया। एक अन्य प्रतिष्ठान पर 25 हजार रुपए का जुर्माना लगाया गया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Penalty for not handling garbage