DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   NCR  ›  नोएडा  ›  नोएडा डिपो की बसों में यात्रियों की संख्या बढ़ी

नोएडानोएडा डिपो की बसों में यात्रियों की संख्या बढ़ी

हिन्दुस्तान टीम,नोएडाPublished By: Newswrap
Tue, 01 Jun 2021 06:30 PM
नोएडा डिपो की बसों में यात्रियों की संख्या बढ़ी

सोमवार को 20 हजार से अधिक यात्रियों ने बसों में सफर किया

शनिवार को बसों में यात्रियों की संख्या केवल 12 हजार थी

नोएडा। वरिष्ठ संवाददाता

नोएडा डिपो की बसों में यात्रियों की संख्या बढ़ने लगी है। शनिवार की तुलना में सोमवार को यात्रियों की संख्या में करीब सात हजार का इजाफा हुआ। हालांकि, सीट क्षमता से अधिक यात्रियों को बस में प्रवेश नहीं दिया जा रहा है।

नोएडा डिपो से यूपी के कई शहरों के लिए बसें चलती हैं। इसमें गाजियाबाद, बरेली, नजीबाबाद, बिजनौर, मेरठ, सहारनपुर, हाथरस, एटा, बंदायू, कासगंज, आगरा, मथुरा, कालागढ़, फिरोजाबाद, शिकोहाबाद, अलीगढ़ आदि शामिल हैं। डिपो के सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक हाकिम सिंह ने कहा कि शनिवार को 12 हजार यात्रियों ने बस में सफर किया था। वहीं, रविवार को करीब 14 हजार यात्री बस में सवार हुए। सोमवार को यात्रियों की संख्या 20 हजार से अधिक थी। उन्होंने कहा कि बीते साल लॉकडाउन से पहले रोज 30 हजार से अधिक यात्री नोएडा डिपपो की बसों में सफर करते थे। हालांकि, कोरोना के कारण यात्रियों की संख्या अब कम है। केवल होली से दो दिन पहले प्रतिदिन यात्री संख्या 25 से 27 हजार के बीच थी।

रूट पर 100 से 125 बस दौड़ रहीं

सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक ने बताया कि नोएडा डिपो में 195 बस हैं, इनमें से 28 बस परिवहन विभाग में सरेंडर की गई हैं। बसों का इस्तेमाल न होने और रोड टैक्स बचाने के चलते इन बसों को सरेंडर किया गया है। उन्होंने बताया कि यात्रियों की संख्या के आधार पर 100 से 125 बसें रूट पर चलाई जा रही हैं।

दिल्ली और उत्तराखंड के लिए बंद रहेगी बस सेवा

नोएडा डिपो से उत्तराखंड के हरिद्वार, कोटद्वार और देहरादून के लिए भी बसें चलती थीं, लेकिन कोरोना के कारण बसें बंद कर दी गई थीं। वहीं, दिल्ली के लिए बीते साल लॉकडाउन से बस सेवा बंद है। पिछले वर्ष अनलॉक की प्रक्रिया में दिल्ली के लिए बस चलाने की यूपी सरकार से अनुमति मिली थी, लेकिन राजधानी के बस अड्डे बंद थे। इसके बाद दिल्ली के लिए यात्रियों की कम संख्या के कारण बसें नहीं भेजी गई थीं। सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक ने कहा कि मुख्यालय से आदेश मिलने के बाद दिल्ली और उत्तराखंड के लिए बसें चलाई जाएंगी। उन्होंने कहा कि दिल्ली के आनंद विहार न जाकर गाजियाबाद के कौशांबी डिपो के रास्ते कई शहरों के लिए बसें चलाई जा रही हैं। बीते दिनों लखनऊ और कानपुर के लिए भी बसें चलाई गई थीं।

संबंधित खबरें