DA Image
20 अप्रैल, 2021|3:50|IST

अगली स्टोरी

लापरवाही : पुलिस कस्टडी से बंदी फरार

default image

कार्रवाई

जेल में हालत बिगड़ने पर जिम्स अस्पताल में भर्ती कराया गया था

सुरक्षा में तैनात चार पुलिस कर्मियों के खिलाफ कासना थाने में केस दर्ज

ग्रेटर नोएडा। संवाददाता

ईकोटेक-3 थाना क्षेत्र में स्थित गांव में रहने वाली नौवीं की छात्रा को घर से उठाने की धमकी देने वाला बंदी गुरुवार को पुलिस कस्टडी से फरार हो गया। लापरवाही बरतने के आरोप में चार पुलिस कर्मियों पर मुकदमा दर्ज किया गया है।

जानकारी के मुताबिक ईकोटेक-3 थाना क्षेत्र निवासी व्यक्ति ने तीन मार्च को पुलिस को शिकायत दी थी कि दिल्ली के ब्रह्मपुरी उस्मानपुर ‌निवासी राजन गुप्ता जूते की दुकान पर काम करता है। आरोपी ने घर में घुसकर रिपोर्ट दर्ज कराने वाले नौवीं कक्षा की छात्रा को उठाकर ले जाने की धमकी दी थी। तभी छात्रा का भाई वहां पहुंच गया और उसने आरोपी को पकड़ लिया। शोर सुनकर आस पड़ोस के लोग वहां जमा हो गए। लोगों ने पकड़कर आरोपी राजन गुप्ता की पिटाई की और थाना पुलिस को सौंप दिया।

पुलिस ने आरोपी को चार मार्च को जेल भेज दिया था। जेल में बुधवार को हालत बिगड़ने पर उसे जिम्स में भर्ती कराया गया। गुरुवार दोपहर आरोपी जिम्स अस्पताल से भाग गया। इसकी सूचना मिलने पर पुलिस ने आरोपी की तलाश शुरू कर दी। पुलिस ने मामले की सूचना पर आरोपी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराने परिवार को भी दी।

जेल अधीक्षक भीमसेन मुकुंद ने बताया कि राजन गुप्ता को 18 मार्च को खून की उल्टी होने पर जेल के स्थाई अस्पताल से दवा दिलाई गई थी। 19 मार्च को उसके सीने का एक्सरे कराया गया। 26 मार्च तक वह जेल के अस्पताल में भर्ती रहा। एक अप्रैल को उसे उपचार व मेडिकल परीक्षण आदि के लिए जिम्स में भर्ती कराया गया था। गुरुवार दोपहर सूचना मिली कि आरोपी अपने बेड पर नहीं है। जब वहां देखा गया तो उसकी सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मी भी नहीं मिले। इसकी सूचना आला अधिकारियों को दे दी गई है। इसकी सुरक्षा में तैनात चार पुलिसकर्मियों के खिलाफ कासना थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Negligence Detainee escaped from police custody