DA Image
8 मई, 2021|1:53|IST

अगली स्टोरी

अभिभावकों के साथ बैठक, छात्र में संक्रमण की जानकारी तुरंत दें

default image

नोएडा। कार्यालय संवाददाता

सीबीएसई स्कूलों में चल रही 10वीं और 12 वीं कक्षा की प्रैक्टीकल परीक्षा को लेकर सीबीएसई स्कूल प्रबंधकों ने कदम उठाए हैं। सीबीएसई स्कूलों ने अभिभावकों के साथ बैठक कर और उन्हें मैसेज कर जानकारी दी है कि यदि उनके बच्चे या परिवार के किसी सदस्य में संक्रमण की पुष्टि होती है तो तुरंत इसकी जानकारी स्कूल प्रबंधक को दें। बच्चे की प्रैक्टीकल परीक्षा बाद में कराई जाएगी।

सीबीएसई के परीक्षा नियंत्रक ने हाल में निर्देश जारी किए हैं कि यदि कोई अभ्यर्थी कोविड से संक्रमित होने के कारण या परिवार के किसी सदस्य के संक्रमित होने की वजह से प्रायोगिक परीक्षा में अनुपस्थित रहता है, तो स्कूल 11 जून तक क्षेत्रीय प्राधिकरण के परामर्श से उचित समय पर ऐसे अभ्यर्थियों के लिए प्रायोगिक परीक्षा आयोजित करेगा। दोनों कक्षाओं की बोर्ड परीक्षाएं मई-जून में और प्रायोगिक परीक्षाएं मार्च-अप्रैल में होनी हैं। वहीं, सीबीएसई के दिशा-निर्देश अनुसार स्कूल प्रबंधकों ने कदम उठाने शुरू कर दिए हैं। सीबीएसई बोर्ड की जिला समन्वयक रेणू सिहं ने बताया कि छात्र व छात्राएं ऑफलाइन प्रैक्टीकल देने आ रहे हैं। कोरोना काल में यदि कोई छात्र वायरस की चपेट में आता है तो उसके लिए भी कदम उठाए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि हाल में अभिभावकों के साथ इसको लेकर मीटिंग की। मीटिंग में अभिभावकों से कहा कि परिवार या छात्र में लक्षण दिखें तो उनकी जांच कराएं। कोरोना पॉजीटिव होने पर तत्काल सूचना स्कूल को दें। मौजूदा परीक्षा को स्थगित कर उसे बाद में 11 जून से पहले कराया जाएगा। काफी संख्या में अभिभावकों को व्हाट्सएप पर बने कक्षाओं के ग्रुप पर भी इसकी सूचना दी गई हैं। उन्होंने कहा कि स्कूलों में ऑफलाइन पढ़ाई व परीक्षा के लिए कोरोना से बचाव के पूरे इंतजाम किए गए हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Meeting with parents inform the student about the transition immediately