DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   NCR  ›  नोएडा  ›  डॉक्टरों पर हमले को रोकने के लिए कानून बने
नोएडा

डॉक्टरों पर हमले को रोकने के लिए कानून बने

हिन्दुस्तान टीम,नोएडाPublished By: Newswrap
Fri, 18 Jun 2021 09:10 PM
डॉक्टरों पर हमले को रोकने के लिए कानून बने

नोएडा। कोविड काल में मरीजों के इलाज में जुटे डॉक्टरों पर हो रहे हमलों के विरोध में शुक्रवार को निजी डॉक्टरों ने काली पट्टी बांधकर काम किया। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने सेव से सेवियर अभियान के तहत सेक्टर 31 स्थित आइएमए हाउस में बैठक की। डॉक्टरों ने ऐसी घटनाओं को रोकने और उनकी सुरक्षा के लिए कानून लाने की मांग की।

आइएमए के अध्यक्ष एनके शर्मा ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर में मरीजों का इलाज करते 700 से ज्यादा डॉक्टरों की जान चली गई। खुद की जान की परवाह न करते हुए डॉक्टर इलाज में जुटे हैं। इसके बावजूद डॉक्टरों पर हमले हो रहे हैं। इससे डॉक्टरों का मनोबल कमजोर होता है। उन्होंने कहा कि चिकित्सा संरक्षण अधिनियम को केंद्रीय अधिनियम बनाकर भारतीय दंड संहिता में शामिल किया जाए। डॉक्टरों के साथ मारपीट करने वाले लोगों पर तुरंत कार्रवाई हो और उन्हें सुरक्षा उपकरण दिए जाएं। इस मौके पर डॉ. नमन शर्मा, डॉ एसएस रावत, डॉ. जीपी पाठक और डॉ. पलाहा आदि डॉक्टर मौजूद रहे।

संबंधित खबरें