DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   NCR  ›  नोएडा  ›  डूब क्षेत्र में बनी अवैध कालोनियां ढहाईं
नोएडा

डूब क्षेत्र में बनी अवैध कालोनियां ढहाईं

हिन्दुस्तान टीम,नोएडाPublished By: Newswrap
Fri, 18 Jun 2021 11:40 PM
डूब क्षेत्र में बनी अवैध कालोनियां ढहाईं

नोएडा। मुख्य संवाददाता

हिंडन नदी के किनारे डूब क्षेत्र में काटी जा रही अवैध कालोनियों को ध्वस्त करने के लिए प्राधिकरण ने शुक्रवार को विशेष अभियान चलाया। प्राधिकरण की टीम ने 15 हजार वर्गमीटर इलाके में बने अवैध निर्माण को ध्वस्त कर दिया।

नोएडा प्राधिकरण की सीईओ रितु माहेश्वरी ने बताया कि वर्क सर्किल-10 स्थित सेक्टर-143 में हिंडन नदी के किनारे डूब क्षेत्र में 15 हजार वर्ग मीटर जमीन में काटी गई अवैध कालोनियों को ध्वस्त किया गया है। इन अवैध कालोनियों में अनाधिकृत रूप से निर्माण कार्य किए जा रहे थे। अनेक लोगों को डूब क्षेत्र में भूखंड बेचकर ठगा जाता था। इन अवैध कालोनियों में यदि आगे भी कोई निर्माण कार्य होता है तो उन्हें ध्वस्त किया जाएगा। इसके लिए जिम्मेदार लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया जाएगा। अवैध निर्माणों को ध्वस्त करने के लिए प्राधिकरण ब़ड़ी टीम लेकर पहुंचा था। टीम में प्राधिकरण के 60 कर्मचारी, तीन जेसीबी मशीनें, तीन डंपर शामिल थे।

स्थानीय लोगों ने विरोध जताया

प्राधिकरण की कार्रवाई का स्थानीय लोगों ने विरोध किया। प्लॉट खरीदने वाले राकेश, निरंजन, बिजेंद्र और गोपाल ने कहा कि उन्होंने अपनी पूरी कमाई यहां पर जमीन लेने में लगा दी और अब प्राधिकरण की कार्रवाई के चलते यहां पर मकान नहीं बना पा रहे हैं। जो थोड़ा सा निर्माण किया था, वह भी प्राधिकरण ने ध्वस्त कर दिया। उन्होंने मांग की कि प्राधिकरण को उन लोगों के खिलाफ भी कार्रवाई करनी चाहिए, जो यहां पर लोगों को जमीन बेचकर ठग रहे हैं।

----

डूब क्षेत्र में बने फार्म हाउस में ही होती हैं पार्टियां

डूब क्षेत्र में बड़े पैमाने पर अवैध रूप से फार्म हाउस भी बने हैं, जहां पर अवैध रूप से नशे की पार्टियों का आयोजन होता है। कोरोना काल में यहां अवैध पार्टियों पर छापेमारी हो चुकी है जिसमें 100 से अधिक लड़के-लड़कियां पकड़े गए हैं। इन फार्म हाउसों के खिलाफ कार्रवाई के लिए पुलिस की ओर से भी प्राधिकरण को पत्र भेजा गया है।

-----

प्रशासन की रोक के बाद भी बैनामे होने जारी

जिलाधिकारी सुहास.एल.वाई ने कहा कि डूब क्षेत्र में अवैध रूप से होने वाले बैनामों को रोकने के लिए जिला प्रशासन ने निर्देश दिए थे। बैनामा करने से पहले नोएडा, ग्रेटर नोएडा और यमुना विकास प्राधिकरण से भी एनओसी ली जानी चाहिए ताकि डूब क्षेत्रों में जमीन बेचकर लोगों के साथ ठगी नहीं हो सके। डूब क्षेत्र में अवैध रूप से कॉलोनी काटने वाले लोगों को चिह्नित कर उन्हें भूमाफिया घोषित कर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

संबंधित खबरें