DA Image
30 मई, 2020|2:15|IST

अगली स्टोरी

पांच लाख तक के इलाज के लिए गोल्डन कार्ड मिलने शुरू

जिले में आयुष्मान भारत योजना का ट्रायल सोमवार से शुरू हो गया। इस योजना के तहत आर्थिक तौर पर कमजोर मरीज अस्पतालों में पांच लाख तक का निशुल्क इलाज करा सकेंगे। पहले दिन पांच लोगों के गोल्डन कार्ड बनाए गए। सेक्टर-30 स्थित जिला अस्पताल में भाजपा नोएडा महानगर के अध्यक्ष राकेश शर्मा ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ.अनुराग भार्गव और मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ.अजेय अग्रवाल की मौजूदगी में ट्रायल का शुभारंभ किया। ग्रेटर नोएडा के दुजाना निवासी अमित कुमार ने बताया कि उनके पिता वीरम सिंह (59वर्ष) दिव्यांग हैं। परिवार की आर्थिक स्थिति कमजोर हैं। मां का देहांत हो चुका है। पिता के इलाज के लिए पैसे जुटाना मुश्किल था लेकिन अब आयुष्मान भारत योजना के तहत गोल्डन कार्ड बन जाने से परेशान नहीं होना पड़ेगा। पिता का पांच लाख रुपये तक का निजी अस्पताल में इलाज हो सकेगा। दुजाना निवासी अकरमुद्दीन को भी गोल्डन कार्ड दिया गया। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ.अनुराग भार्गव ने बताया कि पूरे देश में इस योजना की शुरुआत 23 सितंबर से होगी। योजना से 12 अस्पतालों को जोड़ा जा चुका है। इनमें जिला अस्पताल, सुपर स्पेशियलिटी शिशु अस्पताल एवं स्नात्कोत्तर शैक्षणिक संस्थान, कैलाश अस्पताल नोएडा और ग्रेटर नोएडा, नवीन अस्पताल समेत अन्य अस्पताल शामिल हैं। इन अस्पतालों में आयुष्मान मित्रों की नियुक्ति की गई है, जो मरीजों की मदद करेंगे। 40 और अस्पतालों को इस सुविधा से जोड़ा जाएगा। जिले के 20 हजार परिवारों के एक लाख सदस्यो को इस योजना में सर्वे के बाद शामिल किया गया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Golden card for treatment up to Rs 5 lakh