case file of fraud from retired Lieutenant Colonel - सेवानिवृत्त लेफ्टिनेंट कर्नल से धोखाधड़ी के मामले में केस DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सेवानिवृत्त लेफ्टिनेंट कर्नल से धोखाधड़ी के मामले में केस

सेवानिवृत्त लेफ्टिनेंट कर्नल की याचिका पर जिला न्यायालय ने पुलिस को मुकदमा दर्ज करने का आदेश दिया है। ईकोटेक तीन थाना पुलिस ने कोर्ट के आदेश पर आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। कर्नल ने एक फार्म हाउस की खरीद-फरोख्त को लेकर आरोपी पर 3.5 करोड़ रुपये हड़ने और फार्म हाउस पर कब्जा करने के लिए माफिया से धमकी दिलवाने का आरोप लगाया है। सेवानिवृत्त लेफ्टिनेंट कर्नल गिरीश चंद्र मिश्रा ने 20 जुलाई को जिला न्यायालय में याचिका दायर की थी। कर्नल ने न्यायालय को बताया कि वर्ष 2004 में उन्होंने अपने पिता किशन लाल मिश्रा के नाम पर दिल्ली के आनंद स्वरूप सिंघल से ग्रेटर नोएडा के हबीबपुर गांव में एक फार्म हाउस खरीदने को लेकर 3.5 करोड़ रुपये में सौदा तय किया था। इसके लिए उन्होंने बतौर बयाना 50 लाख रुपये दिए थे। कर्नल ने बताया कि बाकी के तीन करोड़ रुपये वर्ष 2013 उन्होंने अदा कर दिए लेकिन रजिस्ट्री के समय अचानक उनके पिता किशन मिश्रा की मौत हो गई। जब उन्होंने सिंघल परिवार से अपने नाम रजिस्ट्री करने को कहा तो वे बहाने बनाने लगे। इस बीच वर्ष 2015 में आनंद स्वरूप सिंघल की भी मौत हो गई। इसके बाद उनके बेटे सुमित सिंघल रजिस्ट्री करने से मुकर गए लेकिन कर्नल मिश्रा फार्म हाउस में आकर बस गए। लेकिन सिंघल ने रजिस्ट्री उनके नाम नहीं की। कर्नल को पता चला कि फार्म हाउस की जमीन सहकारी समिति के नाम दर्ज है। कर्नल का आरोप है कि सुमित सिंघल ने उनके 3.5 करोड़ रुपये हड़प लिए। अब वह उन्हें फार्म हाउस खाली करने की धमकी दे रहा है। माफिया से भी धमकी दिलवा रहा है। इस मामले में न्यायालय ने ईकोटेक तीन थाना पुलिस को मुकदमा दर्ज कर उचित कार्रवाई के आदेश दिए हैं। ईकोटेत तीन थाना प्रभारी बलवान सिंह का कहना है कि मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। पूरे प्रकरण की जांच पड़ताल के बाद कार्रवाई की जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:case file of fraud from retired Lieutenant Colonel