DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अध्यात्मिक गुरु वीरेंद्र दीक्षित का पता लगाने में सीबीआई नाकाम, ब्लू कार्नर नोटिस जारी

तीन माह बीत जाने के बाद भी सीबीआई आध्यात्मिक गुरु होने का दावा करने वाले वीरेंद्र देव दीक्षित को पता लगाने में नाकाम रही है। सीबीआई ने गुरुवार को हाईकोर्ट में कहा कि दीक्षित को अंतिम बार 2 जुलाई, 2017 को नेपाल में उसकी एक भक्त की पत्नी के साथ देखा गया था और इसके बाद से उनका कोई अतापता नहीं चल रहा है।

रोहिणी स्थित आश्रम में महिलाओं और नाबालिग लड़कियों के कथित यौन शोषण से जुड़े मामले की जांच कर रही सीबीआई ने अपनी जांच रिपोर्ट पेश करते हुए यह जानकारी दी है। कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश गीता मित्तल और न्यायमूर्ति सी हरि शंकर की पीठ को यह जानकारी देते हुए सीबीआई ने कहा कि दीक्षित के खिलाफ इंटरपोल की मदद से इंटरनेशनल ब्लू कार्नर नोटिस जारी किया गया है। सीबीआई ने पीठ को बताया कि दीक्षित की तलाश में उनकी टीम लगातार काम कर रही है। वहीं, मामले की सुनवाई के दौरान दीक्षित की ओर से अधिवक्ता ने दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल पर आश्रम के बारे में झूठी बाते फैलाने का आरोप लगाया। साथ ही मालीवाल के खिलाफ मानहानि का मुकदमा करने की धमकी दी। इस पर हाईकोर्ट ने दीक्षित के वकील को आड़े हाथ लिया। हाईकोर्ट ने कहा कि यदि वीरेंद्र दीक्षित ने कुछ भी गलत नहीं किया तो फरार क्यों चल रहे हैं। आखिर वह सीबीआई और कोर्ट के समक्ष पेश क्यों हो रहे हैं।

हाईकोर्ट ने दीक्षित के वकील से कहा आपके मुवक्किल भाग रहे हैं, वह भी अंतरराष्ट्रीय स्तर पर। पीठ ने कहा कि आखिर वह किस तरह की मिसाल पेश कर रहे हैं। हाईकोर्ट ने अधिवक्ता को निर्देश दिया है कि वह अपने मुवक्किल को सीबीआई के समक्ष पेश होने की सलाह दे। साथ ही कहा कि यदि आपके पास कुछ छिपाने के लिए नहीं है तो अपनी गतिविधियों को पारदर्शी बनाइए।

सीबीआई ने हाईकोर्ट में पेश रिपोर्ट में कहा है कि दीक्षित अपने एक भक्त की पत्नी के साथ नेपाल में पिछले साल 2 जुलाई में देखा गया था। साथ ही कहा है कि महिला के पति ने अपने बयान में कहा है कि उसे अपनी पत्नी के बारे में कोई जानकारी नहीं है। हाईकोर्ट ने सीबीआई को दीक्षित का पता लगाने के अपने प्रयास जारी रखने को कहा है। मामले की अगली सुनवाई 27 जुलाई को होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:virendra dev