DA Image
हिंदी न्यूज़ › NCR › नई दिल्ली › अपडेट :: महाकालेश्वर मंदिर में डांस वीडियो बनाने वाली महिला के खिलाफ मामला दर्ज
नई दिल्ली

अपडेट :: महाकालेश्वर मंदिर में डांस वीडियो बनाने वाली महिला के खिलाफ मामला दर्ज

हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीPublished By: Newswrap
Mon, 11 Oct 2021 10:00 PM
अपडेट :: महाकालेश्वर मंदिर में डांस वीडियो बनाने वाली महिला के खिलाफ मामला दर्ज

नोट : पूर्व में महाकालेश्वर मंदिर में महिला के डांस वीडियो पर विवाद शीर्षक से खबर जारी की गई है, उसके स्थान पर इस खबर को ले लें।

भोपाल/ उज्जैन। एजेंसी

पुलिस ने प्रसिद्ध महाकालेश्वर मंदिर परिसर में बॉलीवुड गाने पर डांस वीडियो बनाने वाली महिला के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है। इंदौर की इस महिला ने डांस वीडियो को सोशल मीडिया में साझा किया था। मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा के निर्देश के बाद पुलिस ने महिला के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

उज्जैन के पुलिस अधीक्षक (एसपी) सत्येंद्र शुक्ला ने सोमवार को कहा कि वीडियो का संज्ञान लेते हुए महिला के खिलाफ भादंवि की धारा 188 (लोक सेवक द्वारा विधिवत आदेश की अवज्ञा) के तहत मामला दर्ज किया गया है। महिला को नोटिस जारी किया गया है। वहीं सोमवार दोपहर को नरोत्तम मिश्रा ने भोपाल में कहा कि उन्होंने वीडियो देखा है और उज्जैन के एसपी को महिला के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर सख्त कार्रवाई करने का निर्देश दिया है। मिश्रा ने कहा कि प्रदेश सरकार ने इसे गंभीरता से लिया है। यह आपत्तिजनक है क्योंकि ऐसा बार-बार हो रहा है। मैं ऐसे लोगों को आगाह कर रहा हूं कि भविष्य में धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने की ऐसी शिकायत मिलने पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

महाकालेश्वर मंदिर परिसर में महिला की तरफ से फिल्मी गीत 'रग रग में तू समाने लगा है' है पर वीडियो बनाया गया था। जिसमें साड़ी पहने महिला मंदिर परिसर में खंभों के चारों और घूमते हुए दिखाई दे रही है। सोशल मीडिया पर वीडियो साझा करने के बाद इंदौर की रहने वाली महिला ने दावा किया कि पुजारियों और हिंदू संगठनों ने इस पर आपत्ति जताई थी और इसके बाद उसने वीडियो बनाने को लेकर माफी मांगी थी। महाकालेश्वर मंदिर के सहायक प्रशासक मूलचन्द जुनवाल ने रविवार को कहा था कि वीडियो भगवान शिव के प्रसिद्ध मंदिर महाकालेश्वर मंदिर के परिसर में शूट किया गया है। उन्होंने कहा कि महिला ने बाद में माफी मांगी थी और अपने सभी वीडियो सोशल मीडिया से हटा दिए। रविवार को जारी वीडियो बयान में महिला ने कहा था कि उसने उज्जैन के मंदिर में एक वीडियो शूट किया था, जो पुजारियों और हिंदू संगठनों को पसंद नहीं आया और उन्होंने इस पर आपत्ति जताई। मेरा इरादा किसी को चोट पहुंचाने का नहीं था। वह इसके लिए माफी मांगती हैं और भविष्य में इस बात का ध्यान रखेगी कि उसकी किसी भी हरकत से किसी की भावनाओं को ठेस न पहुंचे।

संबंधित खबरें