ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ NCR नई दिल्लीअपडेट1 ::: उपनिरीक्षक भर्ती मामले में 30 स्थानों पर सीबीआई के छापे

अपडेट1 ::: उपनिरीक्षक भर्ती मामले में 30 स्थानों पर सीबीआई के छापे

नोट : पहले यह खबर ‘देश : संक्षेप में जारी है। ----------------------------------------- जम्मू-कश्मीर...

अपडेट1 ::: उपनिरीक्षक भर्ती मामले में 30 स्थानों पर सीबीआई के छापे
Newswrapहिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीSat, 06 Aug 2022 03:00 AM
ऐप पर पढ़ें

नई दिल्ली, एजेंसी।

केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने जम्मू-कश्मीर सेवा चयन बोर्ड (जेकेएसएसबी) द्वारा उपनिरीक्षकों की भर्ती में कथित अनियमितताओं की जांच के सिलसिले में शुक्रवार को 30 स्थानों पर छापेमारी की।

अधिकारियों ने बताया कि मामले में जेकेएसएसबी के सदस्य नारायण दत्त, बिचौलियों और उम्मीदवारों सहित 32 लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने के बाद जम्मू में 28 स्थानों और श्रीनगर तथा बेंगलुरु में दो स्थानों पर छापेमारी की गई। उन्होंने बताया कि सीबीआई ने प्राथमिकी में जम्मू में पदस्थापित एक चिकित्सा अधिकारी करनैल सिंह, अखनूर स्थित एक कोचिंग सेंटर के मालिक अविनाश गुप्ता और बेंगलुरु की एक कंपनी को भी नामजद किया है।

जम्मू-कश्मीर के उप-राज्यपाल मनोज सिन्हा ने पुलिस उप-निरीक्षकों के चयन में अनियमितताओं की जांच के आदेश दिए थे। बाद में उन्होंने मामले की सीबीआई जांच की सिफारिश की। सिन्हा ने पिछले महीने राज्य में पुलिस सब-इंस्पेक्टर भर्ती प्रक्रिया को रद्द कर दिया था।

जम्मू में एक कोचिंग संस्थान के महत्वपूर्ण उम्मीदवारों के मेरिट सूची में आने के बाद कथित अनियमितताएं सामने आईं। ऑनलाइन परीक्षा कराने वाली एजेंसी का भी नाम एफआईआर में है। सीबीआई द्वारा दर्ज प्राथमिकी में कुल 33 आरोपी हैं।

सिन्हा ने कहा, चयन प्रक्रिया में अनियमितता के आरोपों के बीच यह रद्दीकरण आया है। उन्होंने कहा कि जांच के दौरान किसी भी तरह की गड़बड़ी पाए जाने पर नई भर्ती प्रक्रिया लागू की जाएगी। 4 जून को, जम्मू और कश्मीर चयन बोर्ड ने 1,200 सफल उम्मीदवारों की सूची की घोषणा की। इन पदों के लिए 97,000 से अधिक लोगों ने परीक्षा दी। हालांकि, परिणाम ऑनलाइन घोषित होने के कुछ ही समय बाद, असफल उम्मीदवारों ने चयन प्रक्रिया में धोखाधड़ी का आरोप लगाते हुए सड़कों पर विरोध-प्रदर्शन किया था।

epaper