DA Image
27 मार्च, 2020|9:24|IST

अगली स्टोरी

कोरोना से लड़ाई में व्यस्त थे डॉक्टर, तभी थैले में कटा हाथ लेकर पहुंचा युवक, 10 घंटे चली सर्जरी में जोड़ा

doctor

दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल के डॉक्टरों ने एक ऐसे युवक की जान बचाई है, जिसका सड़क हादसे में पूरा हाथ कटकर अलग हो गया था। थैली में लेकर आए कटे हाथ को डॉक्टरों ने 10 घंटे तक ऑपरेशन करने के बाद फिर से जोड़ दिया।

सड़क दुर्घटना में घायल विकास को आपातकालीन वार्ड में भर्ती कराया था। 10 डॉक्टरों की टीम ने उसका उपचार किया। 24 मार्च को घर लौटते वक्त हुई दुर्घटना में विकास का हाथ कटकर अलग हो गया था। उसे इलाज के लिए सफदरजंग अस्पताल लाया गया था। यहां कोरोना वायरस से लड़ने में जुटी डॉक्टरों की टीम ने विकास की सर्जरी करने का फैसला लिया। सर्जरी के लिए 10 डॉक्टरों की टीम बनी और लगातार 10 घंटे तक सर्जरी कर उसके हाथ को फिर से जोड़ दिया।

इस संबंध में प्लास्टिक सर्जरी विभाग के प्रोफेसर डॉ राकेश कैन ने बताया कि सर्जरी टीम में बर्न और प्लास्टिक सर्जरी विभाग के हेड ऑफ डिपार्टमेंट डॉ. शलभ कुमार के अलावा डॉ. कनिका, डॉ. आदित्य, डॉ श्रुष्टि सेठ, डॉ अर्चना, डॉ हरि प्रसाद, डॉ अंकित जैन आदि शामिल थे।

घर लौटते वक्त हुआ था हादसा
विकास के दोस्त तुषार धवन ने बताया कि 24 मार्च को विकास गाजियाबाद से अपने घर मंडावली की तरफ लौट रहा था। मोहन नगर के पास एक पुल के पास उसकी बाइक टकरा गई और वह जख्मी हो गया। उसके पीछे से आ रहे उसके बैंक के अधिकारी ने विकास को सड़क पर पड़ा देख वह उसे व उसके कटे हुए हाथ को थैली में डालकर नजदीक के अस्पताल में ले गए। यहां जांच के बाद अस्पताल ने विकास को सफदरजंग के लिए रेफर कर दिया।
 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:The doctor was busy fighting with Corona then the young man arrived with a chopped hand in the bag added to the surgery that lasted 10 hours