रूसी सेना में कार्यरत सूरत के व्यक्ति की मिसाइल हमले में मौत

- परिजनों ने दावा किया, केंद्र से शव वापस लाने में मदद मांगी सूरत,

offline
रूसी सेना में कार्यरत सूरत के व्यक्ति की मिसाइल हमले में मौत
Newswrap हिन्दुस्तान टीम , नई दिल्ली
Mon, 26 Feb 2024 9:30 PM

सूरत, एजेंसी। रूसी सेना के लिए सहायक के रूप में काम करने वाले सूरत के हेमिल मंगुकिया की युद्ध क्षेत्र में यूक्रेन के मिसाइल हमले में मौत हो गई। उसके परिजनों ने यह दावा किया। परिजनों ने सोमवार को केंद्र सरकार से उसका शव वापस लाने में मदद करने का आग्रह किया।
सूरत के जिलाधिकारी सौरभ पारधी ने कहा कि अब तक कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है। उन्होंने कहा कि हम विवरण का इंतजार कर रहे हैं। पुष्टि होने पर हम (विवरण) साझा करेंगे।

हेमिल के चाचा सुरेश ने दावा किया कि उसने 20 फरवरी को सूरत में अपने परिवार के सदस्यों को व्हाट्सएप कॉल की थी और अगले दिन, यूक्रेन की सीमा के पास एक मिसाइल हमले में उसकी मौत हो गई। एक अन्य परिजन दर्शन सवानी ने बताया कि हेमिल दो महीने पहले सेना में शामिल होने के लिए रूस चला गया था। वह 50 हजार रुपये के मासिक वेतन पर एक सहायक के रूप में काम कर रहा था। दर्शन ने दावा किया कि हेमिल ने बेहतर संभावनाओं के लिए नौकरी की तलाश में भारत छोड़ने का फैसला किया था।

एजेंट को दिया धन

दर्शन के अनुसार हेमिल ने रूस जाने में मदद के लिए मुंबई में रहने वाले एक एजेंट को 3 लाख रुपये दिए थे। उसके नियोक्ता ने उससे एक अनुबंध पर हस्ताक्षर कराए थे, जिसके अनुसार उसे युद्ध क्षेत्र में तैनात किया गया और उसका वेतन बढ़ाकर दो लाख रुपये कर दिया गया। दर्शन ने कहा कि वह 14 दिसंबर को रूस के लिए रवाना हुआ था।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हमें फॉलो करें
ऐप पर पढ़ें

NCR की अगली ख़बर पढ़ें
Delhi News Delhi Latest News Ncr News Ncr Latest News
होमफोटोवीडियोफटाफट खबरेंएजुकेशनट्रेंडिंग ख़बरें