ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCR नई दिल्लीदक्षिण-पश्चिमी मानसून 31 मई तक केरल पहुंचने का अनुमान: आईएमडी

दक्षिण-पश्चिमी मानसून 31 मई तक केरल पहुंचने का अनुमान: आईएमडी

- मानसून के 19 मई को अंडमान निकोबार पहुंचने की संभावना -अल नीनो मौसम

दक्षिण-पश्चिमी मानसून 31 मई तक केरल पहुंचने का अनुमान: आईएमडी
हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीWed, 15 May 2024 09:30 PM
ऐप पर पढ़ें

- मानसून के 19 मई को अंडमान निकोबार पहुंचने की संभावना
-अल नीनो मौसम प्रणाली हो रही कमजोर, ला नीना स्थितियां हुईं सक्रिय

नई दिल्ली, एजेंसी। इस बार मानसूनी बारिश जल्द शुरू हो सकती हैं। दक्षिण-पश्चिमी मानसून की शुरुआत केरल में 31 मई के आसपास होने के आसार हैं। वहीं उत्तर-पश्चिम भारत में 16 मई से और पूर्वी भारत में 18 मई, 2024 से गर्मी की लहर का एक नया दौर शुरू होने की संभावना है। यह जानकारी भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने बुधवार को जारी अपने पूर्वानुमान में दी।

दक्षिण-पश्चिमी मानसून आम तौर पर केरल में 1 जून से आता है और इसमें करीब 7 दिन का मानक विचलन रहता है। आईएमडी के पूर्वानुमान के अनुसार इस साल का दक्षिण-पश्चिमी मानसून 31 के आसपास केरल में दस्तक दे सकता है। इनमें चार दिन कम या 4 दिन ज्यादा का अंतर भी हो सकता है। यह तारीख देश भर में मानसून के लिए अहम संकेतक की तरह काम करती है। इसके उत्तर की ओर बढ़ने पर चिलचिलाती गर्मी से राहत मिलती है।

आईएमडी के पूर्वानुमान के मुताबिक, मानसून के 19 मई को अंडमान निकोबार पहुंचने की संभावना है। आमतौर पर यह 20 से 22 तारीख के आसपास इस जोन में प्रवेश करता है। यहां आने के बाद मानसून देश के अन्य हिस्सों की तरफ बढ़ेगा। मौसम विभाग की मानें तो देश में अल नीनो मौसम प्रणाली कमजोर हो रही है। ला नीना स्थितियां सक्रिय हो रही हैं। यह इस साल अच्छे मानसून का संकेत है। इस कारण भारत में मानसून समय से पहले दस्तक दे सकता है।

चार डिग्री तक बढ़ेगा तापमान :

आईएमडी के अनुसार असम, मेघालय, त्रिपुरा, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और बिहार में गुरुवार को गर्म और आर्द्र मौसम रहने का अनुमान है। अगले चार दिनों के दौरान, उत्तर-पश्चिम और पूर्वी भारत के कई हिस्सों में अधिकतम तापमान में लगभग 3-4 डिग्री सेल्सियस, मध्य भारत और गुजरात में लगभग दो-चार डिग्री सेल्सियस की वृद्धि होने के आसार हैं।

उत्तर-पश्चिम भारत में भीषण गर्मी पड़ने के आसार :

उत्तर-पश्चिम भारत में गुरुवार से और पूर्वी भारत में 18 मई से लू चलने के आसार हैं। आईएमडी के अनुसार, पश्चिम राजस्थान, पंजाब, दक्षिण हरियाणा, पूर्वी राजस्थान, उत्तर प्रदेश और बिहार, गुजरात के अलग-अलग इलाकों में 16-19 मई तक लू चलने का अनुमान है। कोंकण में 15-16 मई, सौराष्ट्र और कच्छ में 16-17 मई, दिल्ली, झारखंड, गैंगेटिक पश्चिम बंगाल और ओडिशा 18-19 मई को लू चलने का अनुमान है।

प्रायद्वीपीय भारत में 20 मई तक आंधी-बारिश का अनुमान :

मौसम वैज्ञानिकों ने बताया कि दक्षिण प्रायद्वीपीय भारत में 20 मई तक आंधी, बिजली के साथ भारी बारिश या बौछार पड़ने के आसार हैं। तमिलनाडु, पुड्डुचेरी, कराइकल, केरल, माहे, तटीय और कर्नाटक में अलग-अलग क्षेत्रों में बुधवार से 19 मई तक भारी वर्षा के आसार हैं। अरुणाचल प्रदेश में 16-19 मई, असम और मेघालय में 17-19 तक अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश का अनुमान है। दक्षिण पश्चिम मानसून के दक्षिण अंडमान सागर, दक्षिण पूर्व बंगाल की खाड़ी के कुछ हिस्सों और निकोबार द्वीप समूह में 19 मई को आगे बढ़ने के आसार हैं।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें