DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राहत-एक चौथाई जमा कर मिल सकतीहै छूट

नई दिल्ली। मुख्य संवाददाता

सीलिंग से जूझ रहे कारोबारियों को बुधवार को थोड़ी राहत मिली है। शहरी विकास मंत्री ने संसद में बताया कि राजधानी में एक चौथाई कनवर्जन शुल्क जमा कर सीलिंग से बचा जा सकता है। उन्होंने बताया कि इस संबंध में हाई पावर कमेटी ने फैसला लिया है। अभी तक 88 हजार रुपए प्रति वर्ग मीटर कनवर्जन शुल्क जमा करना था। अब 22 हजार रुपए प्रति वर्ग मीटर जमा कर सीलिंग से राहत मिल सकती है।

शहरी विकास मंत्री हरदेव पुरी ने सदन में बताया कि कनवर्जन शुल्क का मुद्दा सदन में उठाया गया है। इस संबंध में मानिटरिंग कमेटी के सदस्यों के साथ बातचीत हो चुकी है। इसमे फैसला लिया गया है कि अंतरिम तौर पर कारोबारी 22 हजार रुपए प्रति वर्ग मीटर कनवर्जन शुल्क जमा कर सीलिंग से बच सकेंगे। बचा हुआ पैसा बाद में सैटल होने पर जमा किया जा सकता है।

राजधानी के बाजारों में कनवर्जन शुल्क को लेकर सीलिंग चल रही है। डिफेंस कालोनी और छतरपुर में यह कार्रवाई की गईहै। मंगलवार को मानिटरिंग कमेटी ने निकाय अफसरों के साथ बैठक की थी। इस बैठक में कनवर्जन शुल्क पर चर्चा हुई और लोगों को राहत देते हुए एक चौथाई कनवर्जन शुल्क जमा कर सीलिंग से राहत देने का फैसला लिया गया। इस संबंध में अभी दिल्ली विकास प्राधिकरण को नॉटिफिकेशन जारी करना है। बुधवार को शहरी विकास मंत्री ने सदन में राहत की घोषणा कर दी। एक चौथाई शुल्क जमा कर फिलहाल सीलिंग से राहत मिल जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:selling