DA Image
10 अगस्त, 2020|11:43|IST

अगली स्टोरी

दिल्ली में कोरोना के एक दिन में सबसे अधिक केस; अब तक 56000 से अधिक मरीज, 2112 की मौत

death percentage in agra is higher than delhi and mumbai

दिल्ली में एक दिन में कोरोना वायरस संक्रमण के सबसे अधिक 3,630 मामले सामने आने के बाद शनिवार (20 जून) को संक्रमितों की संख्या 56,746 हो गई। अधिकारियों ने बताया कि दिल्ली में दूसरी बार एक दिन में संक्रमण के 3,000 से अधिक मामले सामने आए हैं। इससे पहले 19 जून को 3,137 मामले सामने आए थे। दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग के बुलेटिन में कहा गया है कि बीते 24 घंटे में 77 लोगों की मौत हुई, जिसके बाद मृतकों की कुल संख्या 2,112 हो गई है। 

दूसरी ओर, दिल्ली सरकार ने शनिवार (20 जून) को निजी अस्पतालों में कोविड-19 आइसोलेशन बेड का शुल्क 8,000 से 10,000 रुपए, जबकि वेंटिलेटर के साथ आईसीयू बेड का शुल्क 15,000 से 18,000 रुपए तय करने का आदेश जारी किया है। दिल्ली स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी एक आदेश में कहा गया है कि दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह द्वारा स्थापित उच्चस्तरीय समिति की सिफारिशों को स्वीकार कर लिया है।

भारत में कोरोना मरीजों की संख्या 4 लाख के पार, 13 हजार से अधिक की मौत

नीति आयोग के सदस्य वी के पॉल की अध्यक्षता में समिति गठित की गई थी। दिल्ली सरकार ने गुरुवार को प्रयोगशालाओं में होने वाली कोविड-19 जांच की दर 2,400 रुपए तय करने का आदेश जारी किया था। आदेश में कहा गया है कि सभी निजी अस्पतालों के लिए आइसोलेशन बेड की नई दर 8,000-10,000 रुपए तय की गई है, जबकि बिना वेंटिलेटर के आईसीयू के बेड का शुल्क 13,000-15,000 रुपए और वेंटिलेटर के साथ आईसीयू में बेड का शुल्क 15,000-18,000 रुपए तय किया गया है। इन शुल्कों में पीपीई की लागत भी शामिल हैं।

दिल्ली में हल्के लक्षण वाले कोरोना रोगी नहीं होंगे भर्ती
दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार द्वारा भारी विरोध किए जाने के बाद उपराज्यपाल अनिल बैजल ने कोरोना रोगियों को लेकर जारी किया गया अपना एक अहम फैसला वापस ले लिया है। इस फैसले के अंतर्गत उपराज्यपाल ने सभी कोरोना रोगियों को कम से कम 5 दिन आइसोलेशन सेंटर में रखे जाने का आदेश दिया था। यह आदेश अब वापस ले लिया गया है। दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल ने शनिवार शाम हुई डीडीएमए की बैठक में पांच दिन के संस्थागत क्वारंटाइन का फैसला वापस लिया। डीडीएमए की दोबारा हुई बैठक में भारी विरोध के बाद उपराज्यपाल ने अपना फैसला वापस लिया है। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Record surge of 3630 Coronavirus cases in Delhi take tally to over 56K death toll 2112