ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCR नई दिल्लीरियासी आतंकी हमला : 20 लोग हिरासत में, आतंकियों की तलाश जारी

रियासी आतंकी हमला : 20 लोग हिरासत में, आतंकियों की तलाश जारी

- पहाड़ों में छिपे हैं हमलावरों को आईएसआई ने मिल रहा निर्देश

रियासी आतंकी हमला :  20 लोग हिरासत में, आतंकियों की तलाश जारी
हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीTue, 11 Jun 2024 06:00 PM
ऐप पर पढ़ें

- पहाड़ों में छिपे हैं हमलावरों को आईएसआई ने मिल रहा निर्देश
जम्मू, एजेंसी। जम्मू-कश्मीर के रियासी जिले में श्रद्धालुओं की बस पर हमला करने वाले आतंकियों की तलाश मंगलवार को दूसरे दिन भी जारी रही। इस अभियान में सुरक्षा बलों की 11 टीमों को लगाया गया है। 20 से ज्यादा लोगों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया है। पता चला है कि आतंकी पहाड़ों में छिपे हैं और आईएसआई से निर्देश ले रहे हैं।

उधमपुर-रियासी रेंज के पुलिस उपमहानिरीक्षक (डीआईजी) रईस मोहम्मद भट ने बताया कि पुलिस, सेना, सीआरपीएफ के 11 टीमें आतंकवादियों को खत्म करने के लिए दो छोर पर काम कर रही हैं। ड्रोन व खोजी कुत्तों को भी लगाया गया है। सुरक्षा बलों को कुछ सुराग भी मिले हैं। जहां हमला हुआ था उस पूरे इलाके को घेर लिया गया है। संदेह है कि पाकिस्तानी आतंकी राजौरी व रियासी के पहाड़ी इलाकों में छिपे हुए हैं। सूत्रों ने बताया कि वे सुरक्षित संचार के माध्यम से पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई से निर्देश ले रहे हैं।

मददगार समेत चार आतंकी थे शामिल

डीआईजी ने बताया कि एक स्थानीय मददगार सहित चार आतंकियों ने लश्कर-ए-तैयबा के कमांडर अबू हमजा के निर्देश पर शिव खोरी मंदिर से माता वैष्णो देवी मंदिर जा रही बस पर गोलीबारी की थी। हमले के बाद बस खाई में जा गिरी। घायल हुए 41 लोगों में से 10 को गोली लगी थी। बस चालक विजय शर्मा की कई गोलियां लगने से मौत हो गई। इसके अलावा आठ और लोगों की जान गई।

-----------------

पाक से लगी सीमा अभेद्य नहीं : अब्दुल्ला

श्रीनगर, एजेंसी। नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष फारूख अब्दुल्ला ने मंगलवार को कहा कि भले ही जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा परिदृश्य बेहतर है पर आतंकवाद अब भी जीवित है, क्योंकि पाकिस्तान के साथ सीमा अभेद्य नहीं है। बारामूला में अब्दुल्ला ने कहा कि हमारी सीमा पर हर जगह नियंत्रण नहीं रखा जा सकता। पूर्व मुख्यमंत्री ने रियासी हमले की निंदा करते हुए कहा कि मुझे दुख है कि निर्दोष तीर्थयात्रियों, निहत्थे लोगों पर हमला किया गया।

-----------------

राजस्थान में धरना-प्रदर्शन

जयपुर, एजेंसी। रियासी हमले में राजस्थान के मारे गये चार लोगों के शव मंगलवार सुबह जयपुर पहुंचे तो हमले के विरोध, मृतकों के परिजनों को मुआवजा व आश्रितों को नौकरी की मांग को लेकर जयपुर के मुरलीपुरा व चौमूं में धरना-प्रदर्शन हुआ। मृतक राजेंद्र व ममता के शव चौमूं पहुंचने से परिजनों व ग्रामीणों ने पांच्यावाली ढाणी में धरना शुरू कर दिया। लोग आक्रोशित हो गए और वे सड़कों पर उतर आए। प्रशासन व पुलिस के अधिकारी मौके पहुंचे और इनसे वार्ता की है। पुलिस के अनुसार चौमूं एवं मुरलीपुरा में दोनों जगह प्रदर्शनकारियों ने रास्ता रोकने का प्रयास किया गया, लेकिन उन्हें खदेड़ दिया गया।

--------------

हमले के बाद भी शिव खोरी मंदिर में दर्शन जारी

रियासी, एजेंसी। इस आतंकी हमले से विचलित हुए बिना, श्रद्धालु सुरक्षा बलों व भगवान में आस्था जताते हुए हमेशा की तरह शिव खोरी मंदिर में दर्शन के लिए आ रहे हैं। मंगलवार को श्रद्धालु पोनी क्षेत्र के तेरयाथ गांव के पास घटनास्थल पर कुछ देर के लिए रुके और भारत माता की जय और भारतीय सेना जिंदाबाद जैसे नारे लगाए और मृतकों के लिए प्रार्थना की। इसी तरह से देश के विभिन्न हिस्सों से श्रद्धालुओं का आना जारी है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।